BSC Full Form in Hindi | बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है | BSC Meaning in Hindi | BSC Ka Full Form Kya Hai

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं कि BSC का फुल फॉर्म क्या है? BSC बीएससी क्या होता है? अक्सर ही आप अपने आस-पड़ोस या अपने किसी दोस्त से जब पूछते हैं कि उसने ग्रेजुएशन करने के लिए मैं कौन सी पढ़ाई को चुना है तो आप ने काफी बार BSC का नाम सुना होगा। 

BSC कोर्स की प्रसिद्धि देश में काफी ज्यादा हो रही है| विज्ञान के विषय में रुचि रखने वाले अधिकतर छात्र BSC में एडमिशन ले रहे हैं क्योंकि BSC कोर्स के लिए लगभग देश के सभी शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में कॉलेज उपलब्ध है और इसका सबसे बड़ा फायदा यह भी है कि है अन्य टेक्निकल कोर्स से काफी ज्यादा सस्ता भी है| अगर आप भी BSC Science के विषय में रुचि रखते हैं तो आपको भी BSC में जरूर एडमिशन लेना चाहिए| इससे आप में विज्ञान के सभी विषयों को अच्छे से समझने की काबिलियत आ जाती है और अब खुद भी नवीन अनुसंधान भी करने के लायक हो जाते हैं।

अगर आप भी BSC के बारे में जानना चाहते हैं कि BSC का फुल फॉर्म क्या होती है? (BSC Full Form in HIndi) बीएससी फुल फॉर्म इन हिंदी BSC का हिंदी में क्या मतलब होता है? BSC में एडमिशन कैसे ली जाती है? BSC करने के फायदे क्या है? BSC के बाद कौन सी Job प्रोफाइल होती है? इन सब के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

BSC का फुल फॉर्म क्या होता है?

BSC का फुल फॉर्म Bachelor of Science होता है| जिसे हिंदी में विज्ञान में स्नातक भी कहा जाता है| जो भी छात्र BSC की पढ़ाई करता है उसे विज्ञान के विषय में काफी अच्छी जानकारी हो जाती है और उसकी विज्ञान के विषयों के साथ यानी कि Bachelor of Science में ग्रेजुएशन पूरी हो जाती है।

BSC क्या है?

जैसे कि हमने अभी आपको BSC का फुल फॉर्म के बारे में बताया है| उस फुल फॉर्म से आपको थोड़ा बहुत अंदाजा तो हो ही गया होगा कि BSC क्या होता है। हमारे देश में science स्ट्रीम से इंटरमीडिएट पास करने वाले ज्यादातर छात्र अक्सर ही BSC के कोर्स को चुनते हैं और यह कोर्स हमारे देश में काफी ज्यादा लोकप्रिय भी है| अगर आप भी साइंस के क्षेत्र में रुचि रखते हैं और आप भी अपना करिए साइंस के क्षेत्र में बनाना चाहते हैं तो BSC आपके लिए लाभकारी कोर्स हो सकता है| 

BSC करने का फायदा यह है यह तोकि आपको साइंस के विषय की जानकारी बहुत अच्छी हो जाती है| साथ ही आप में तर्कशक्ति का विकास होता है जिससे आपके पास अपने करियर बनाने के काफी सारे विकल्प आ जाते हैं। आप अपने क्नौलेज के अनुसार मानवता की भलाई में भी योगदान दे सकते हैं क्योंकि science आज के समय में काफी ज्यादा विकसित हो रहा है।

BSC (Bachelor of Science) कोर्स

BSC (Bachelor of Science) कोर्स दो प्रकार के होते है।

BSC (Bachelor of Science) GENERAL

BSC GENERAL में आपको विज्ञान के मुख्य तीन विषयों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है| यह कोर्स 3 साल का होता है और कहीं-कहीं यह कोर्स 5 साल का भी होता है| BSC GENERAL करने के लिए आपको intermediate पास करना होता है| उसके बाद BSC GENERAL में एडमिशन ले सकते हैं| BSC GENERALके लिए आप को न्यूनतम अंक भी प्राप्त करने होते हैं| इस कोर्स को आप फुल टाइम और पार्ट टाइम दोनों ही तरीकों से कर सकते हैं।

BSC (Bachelor of Science) HONOURS

BSC HONOURS, BSC GENERAL के जैसा ही होता है परंतु इसमें आपको सिर्फ एक विषय के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है और आपको सिर्फ विज्ञान की एक विषय में विशेषग बनाने के लिए ही जानकारी प्रदान की जाती है| इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको intermediate पास करना होता है| यह कोर्स भी 3 साल का होता है और कहीं कहीं 5 साल का भी होता है| इस कोर्स में प्रवेश करने के लिए आप को न्यूनतम अंक प्राप्त करने होते हैं। बीएससी ऑनर्स फुल टाइम कोर्स है इसे आप पार्ट टाइम नहीं कर सकते हैं।

BSC (Bachelor of Science) क्या है एडमिशन लेने हेतु पात्रता

अगर आप भी BSC में एडमिशन लेना चाहते हैं तो उसके लिए जरूरी पात्रता इस प्रकार है:-

  • BSC में एडमिशन लेने के लिए छात्र की इंटरमीडिएट मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास हिनी चाहिए। 
  • छात्र के न्यूनतम अंक प्राप्त होने चाहिए। 
  • छात्र को विज्ञान के विषय में जानकारी होनी चाहिए| 
  • छात्र का नाम कॉलेज की मेरिट लिस्ट में होना चाहिए उसके बाद ही BSC में एडमिशन ले सकता है। 
  • इसके अलावा और जो भी पात्रता मांगी जाती है जैसे की उम्र वह भी पूरी होनी चाहिए।

BSC में एडमिशन कैसे ले?

अगर आप भी BSC करने का मन बना चुके हैं और BSC में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आप 2 तरीकों से एडमिशन ले सकते हैं।

Direct Admission

देश में ऐसे काफी सारे निजी या प्राइवेट कॉलेज हैं जहां पर छात्रों को इंटरमीडिएट में प्राप्त अंकों के आधार पर भी एडमिशन दिया जाता है| उनको जिस कॉलेज में एडमिशन लेना होता हैं उस कॉलेज में तय किये गए न्यूनतम अंक इंटरमीडिएट में होने जरूरी है उसके बाद ही वह निजी या प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन ले सकता है| परंतु हम आपको बताना चाहेंगे कि प्राइवेट कॉलेज की फीस गवर्नमेंट कॉलेज के मुकाबले काफी ज्यादा होती है।

Entrance Base पर

हमारे देश में ऐसे काफी प्रसिद्ध कॉलेज है जहां पर BSC में एंट्रेंस पर ही एडमिशन दिया जाता है| इन कॉलेज में छात्रों द्वारा प्राप्त अंकों के आधार पर ही उन्हें एडमिशन दिया जाता है| इसके लिए उनको सबसे पहले मेरिट लिस्ट में आना जरूरी होता है| देश में ऐसे कई प्रसिद्ध कॉलेज जैसे कि दिल्ली विश्वविद्यालय, JNU  और भी ऐसे काफी इंस्टिट्यूट है जहां पर छात्रों को इंटरमीडिएट में प्राप्त अंकों के आधार पर ही BSC में एडमिशन दिया जाता है| उनके लिए मेरिट लिस्ट भी लगाई जाती है| उसके आधार पर ही उन्हें दाखिला मिलता है| परंतु पिछले कुछ सालों में मेरिट लिस्ट काफी ज्यादा high गई है जिसकी वजह से इन कॉलेजों की आलोचना भी होती रही है।

इसके अलावा राज्य सरकार द्वारा चलने वाले इंस्टिट्यूट में भी मेरिट लिस्ट लगाई जाती है और उस मेरिट लिस्ट के आधार पर ही छात्र को एडमिशन दी जाती है परंतु इन कॉलेजों में उसी राज्य के छात्र को दाखिले के लिए प्राथमिकता दी जाती है।

भारत के टॉप BSC कॉलेज (Top BSC College in India)

  • Shobhit University Meerut
  • Loyola College, Chennai
  • AIIMS Delhi, Delhi
  • Miranda House, Delhi
  • Madras Christian College, Chennai
  • Hemwati Nandan Bahuguna Garhwak University, Uttarakhand
  • Sri Venkateswara College, Delhi
  • Hindu College, Delhi
  • Stella Maris College, Chennai
  • Gargi College, Delhi
  • University of Rajasthan, Jaipur

BSC के बाद क्या कर सकते है?

अगर आप भी BSC कर लेते हैं और अगर आप सोच रहे हैं कि आगे की पढ़ाई भी करनी है उसके लिए आपके पास काफी सारे विकल्प आ जाते हैं| जिसमें से हम कुछ खास कोर्स आपके साथ शेयर करने जा रहे हैं जिसमें आप अपना अच्छा भविष्य बना सकते हैं।

  • आप MSC कर सकते हैं।
  • आप MCA कर सकते है।
  • आप MBA कर सकते है।
  • आप B.Tech कर सकते है।
  • आप Job भी कर सकते है।
  • आप B.ED और B.T.C कर सकते है।
  • आप Govt. नौकरी की तैयारी कर सकते है।

BSC में प्रवेश की प्रक्रिया

BSC में एडमिशन लेने के लिए किसी भी प्रकार की परीक्षा देने की जरूरत नहीं होती है| आपके इंटरमीडिएट अंकों के आधार पर ही आपको गवर्नमेंट या प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन मिलती है। छात्रों को एडमिशन देने के लिए कॉलेज के द्वारा मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है और उस मेरिट लिस्ट के आधार पर ही स्टूडेंट को BSC में एडमिशन मिलती है।

BSC (Bachelor of Science) में अलग-अलग स्ट्रीम क्या है?

BSC की पढ़ाई करने के लिए भी आपके पास बहुत सारे विकल्प होते हैं| जिसे आप अपने interest के अनुसार चुन सकते हैं और वह कुछ इस प्रकार हैं:-

  • BSC Physics
  • BSC Horticulture
  • BSC Chemistry
  • BSC Hotel Management
  • BSC Mathematics
  • BSC Software Engineering
  • BSC Zoology
  • BSC Medical
  • BSC Botany
  • BSC Applied Physics
  • BSC Computer Science
  • BSC Economics
  • BSC Biology
  • BSC Applied Chemistry
  • BSC Anatomy
  • BSC Statistics
  • BSC Nursing
  • BSC Food Technology
  • BSC Agriculture
  • BSC Environment Science
  • BSC IT
  • BSC Food Technology
  • BSC Geology
  • BSC Electronics

BSC (Bachelor of Science) करने के बाद करियर के विकल्प

BSC करने के बाद छात्रों के पास सरकारी और निजी संस्थानों में करियर बनाने के हजारों विकल्प मिल जाते हैं| इसके अलावा वह BSC करने के बाद आगे की पढ़ाई करके भी किसी अनुशंसित क्षेत्र में अनुसंधान कर सकते हैं या फिर सरकार के विभिन्न विभागों में जो vacancy निकाली जाती है उन्हें qualify कर के सरकारी संस्थानों में सेवाएं दे सकते हैं। इसके अलावा निजी क्षेत्रों में भी अनुसंधान की बहुत ज्यादा मांग है| आप इसमें भी अपना करियर बना सकते हैं| BSC करने के बाद आपके सामने अपना करियर बनाने के काफी सारे विकल्प आ जाते हैं जो कि कुछ इस प्रकार है:-

  • IT कंपनीज में टेक्निकल जॉब
  • केमिकल फैक्ट्रीज में सहायक/ एग्जीक्यूटिव
  • फ़ूड इंडस्ट्रीज में ट्रेनी/असिस्टेंट/एग्जीक्यूटिव
  • labotaries में लैब सहायक
  • कृषि में नए प्रयोग कर बेहतर उत्पादन करना
  • फिशरीज में करियर
  • जियोलॉजी में करियर
  • फ़ूड विभाग में असिस्टेंट
  • एरोनॉटिकल क्षेत्र में अभियंता
  • बायोटेक्नोलॉजी में अनुसंधान हेतु सहायक
  • डाटा साइंटिस्ट
  • हॉस्पिटल्स
  • हेल्थ केयर प्रोवाईडर्स
  • पर्यावरण प्रबंधन और संरक्षण
  • भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग
  • अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान
  • वेब डिजाइनर, वेब कंटेन्ट राइटर, ब्लॉगर
  • फोरेंसिक अनुसंधान विभाग

BSC के बाद दिए जाने वाले सरकारी परीक्षाएँ

जब आपकी BSC की पढ़ाई पूरी हो जाती है तो उसके बाद आप सरकारी परीक्षा देने के लिए भी eligible हो जाते हैं| देश में सरकारी संस्था के द्वारा काफी सरकारी परीक्षाएं करवाई जाती है जिन्हें आप दे सकते हैं जैसे कि:-

  • भारतीय वन सेवा परीक्षा
  • यूपीएससी परीक्षा
  • रेलवे परीक्षा
  • बैंक परीक्षा
  • एलआईसी एएओ परीक्षा
  • एएफसीएटी परीक्षा
  • एसएससी सीजीएल
  • राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षा

इस तरह आप देख सकते हैं कि अगर अब BSC की पढ़ाई अच्छे से कर लेते हैं आपको किसी एक विषय की काफी अच्छी नॉलेज हो जाती है तो आपके सामने अपना करियर बनाने के बहुत सारे विकल्प आ जाते हैं और आप सरकारी परीक्षाओं को पास करके भी सरकारी संस्थाओं या अनुसंधान केंद्रों में भी अपना अच्छा करियर बना सकते हैं। इसके अलावा आप BSC करने के बाद MSC कर सकते हैं और  MSC करने के बाद आप PhD भी कर सकते हैं| इससे फायदा यह होगा कि आप विज्ञान के किसी एक विषय के विशेषज्ञ बन जाते हैं और आप नवीन अनुसंधान भी कर सकते हैं।

BSC करने के लाभ क्या है?

  • BSC करने से आपको विज्ञान के क्षेत्र में ग्रेजुएशन मिल जाती है जिससे आप जॉब के लिए अलग-अलग जगह पर अप्लाई कर सकते हैं। 
  • BSC करने के बाद आप MSC में एडमिशन लेने के लिए अप्लाई कर सकते हैं| 
  • BSC करने के बाद आप किसी अनुसंधान क्षेत्र को join कर सकते हैं जहां पर आप नए-नए आविष्कार कर सकते हैं| 
  • इसके अलावा आप सरकार के अलग-अलग संस्थानों में अपनी सेवाएं दे सकते हैं और देश को लाभ पहुंचाने में भी मदद कर सकते हैं| 
  • आप किसी MNC कंपनी में भी शामिल हो सकते हैं| 
  • BSC करने से आपकी तर्कशक्ति बढ़ जाती है जिससे आप हर चीज को साइंटिफिक नजरिए से देख सकते हैं।
  • BSC करने से या विज्ञान के किसी एक विषय में विशेषग बन सकते हैं। 
  • BSC करने के बाद आप इतने योग्य बन जाते हैं कि आप BSC में पढ़ाने का करियर भी चुन सकते हैं।

Conclusion

दोस्तों अब आप जान चुके हैं कि BSC क्या है, BSC का फुल फॉर्म क्या है, BSC के लिए आवश्यक पात्रता क्या है, BSC में एडमिशन कैसे मिलती है, भारत में BSC के टॉप कॉलेज कौन से हैं, BSC के क्या फायदे हैं| उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी से आपके BSC से संबंधित जितने भी सवाल थे उनके आपको जवाब मिल गए होंगे। अगर आपको हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी से संबंधित कोई भी डाउट हो या फिर आप अपनी राय देना चाहते हैं तो हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

ये भी पढ़े:

LLB की फुल फॉर्म क्या है?

पीएचडी का फुल फॉर्म क्या है?

एमबीए का फुल फॉर्म क्या है?

बीए का फुल फॉर्म क्या है? 

FAQ (Frequently Asked Questions)

BSC क्या है?

BSC एक 3 वर्षीय Science Graduate कोर्स है जिसमे आपको विज्ञान से संबंधित विषयों को पढ़ाया जाता है और आपको किसी एक विषय में विशेषग बनाया जाता है|

BSC की फुल फॉर्म क्या है?

BSC की फुल फॉर्म Bachelor of Science होती है| जिसको हिंदी में विज्ञान में स्नातक कहते है| 

BSC (Bachelor of Science) हेतु आवश्यक पात्रता क्या है?

अगर आप BSC (Bachelor of Science) की पढ़ाई करना चाहते है तो आपको intermediate पास करना होता है|

क्या BSC (Bachelor of Science) में किसी भी स्ट्रीम के छात्र दाखिला ले सकते है?

BSC (Bachelor of Science) में admission लेने के लिए student के पास intermediateमें science के विषय होना जरुरी है।

BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन कैसे ले?

अगर आप भी BSC (Bachelor of Science) में admission लेना चाहते है तो आप हमारे इस पोस्ट में बताई गई जानकारी को पढ़ सकते है| इस से आपको एडमिशन कैसे लेनी है के बारे में अच्छे से समझ आ जाएगी|

BSC (Bachelor of Science) में फीस कितनी है?

BSC (Bachelor of Science) की फीस कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है क्यूंकि अलग-अलग कॉलेजो में अलग-अलग फीस होती है। सरकारी कॉलेजो की फीस प्राइवेट या निजी कॉलेजो के मुकाबले काफी कम होती है।

BSC कब करें?

BSC करने के लिए छात्र का 12वीं में पास होना जरूरी है और साथ ही उसके 12वीं के विषयों के आधार पर ही वह BSC में अपने विषय चुन सकता है| BSC एक Graduate Academic Degree है| यह Science विषय से संबंधित डिग्री है और यह 3 साल की होती है।

क्या 12वीं के बाद BSC अच्छा कोर्स है?

अगर 12वीं की परीक्षा आप ने दे दी है| आप पास हो गए हैं तो आप भी 12वीं के बाद BSC में एडमिशन ले सकते हैं| आप BSC कृषि, BSC जियोलॉजी या अन्य किसी भी विज्ञान के क्षेत्र में एडमिशन ले सकते हैं।

BSC कोर्स समय अवधि क्या है? 

BSC एक ग्रेजुएशन कोर्स है| यह 3 साल का होता है परंतु कुछ जगह पर है 4 साल का भी होता है।

BSC Full Form in Medical? 

BSC ka full form medical me Medical science होता है|

BSC Full Form in Computer

BSC Full Form in Computer – Bachelor of Science in Computer Science होता है|

BSC Full Form in Medical? 

BSC ka full form medical में Medical Science होता है|

BSC में पास होने कितने नम्बर चाहिए? 

BSC में पास होने के लिए कम से कम 55% नम्बर होने चाहिए|

BSC में कितने कोर्स होते है?

BSC में लगभग 10 से 12 कोर्स होते है|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top