सीए का फुल फॉर्म क्या है|Full Form of CA in Hindi

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं कि CA का फुल फॉर्म क्या है? CA कौन होता है और CA क्या काम करता है? बारहवीं की परीक्षा पास करने के बाद students के लिए CA की पढ़ाई करने के रास्ते खुल जाते हैं| अगर आप professional CA बनाने के बारे में सोच रहे हैं तो सबसे पहले आपको CA के लिए मन लगाकर पढ़ाई करनी होगी क्योंकि हर साल लाखों स्टूडेंट CA की परीक्षा के लिए पढ़ाई करते हैं। 

अगर आप commerce स्टूडेंट है तो आप को CA के बारे में काफी अच्छी जानकारी होगी| अगर आप commerce  स्टूडेंट नहीं है तो घबराइए मत आज के इस पोस्ट में हम आपको CA का फुल फॉर्म क्या होता है उसके बारे में बताने जा रहे हैं। जैसा कि हम जानते हैं किसी CA की जॉब बहुत ही सम्मानजनक जॉब होती है| इसलिए हम अपनी रोजाना जिंदगी में अक्सर ही CA के बारे में सुनते रहते हैं| परंतु फिर भी आप में से बहुत से लोग होंगे जिनको यह मालूम नहीं होगा कि सीए का फुल फॉर्म क्या होता है? CA को हिंदी में क्या कहते हैं? CA की जॉब में क्या करना होता है? 

अगर आप भी CA के बारे में विस्तार में जानना चाहते हैं तो हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें| हम अपने इस पोस्ट में आपके CA के संबंध में जितने भी सवाल है उनके जवाब देने की पूरी पूरी कोशिश करेंगे तो चलिए शुरू करते हैं CA क्या है और CA कैसे करें?

CA का फुल फॉर्म हिंदी में – Full form of CA in Hindi

CA  का फुल फॉर्म Chartered Accountant होता है| यह प्रोफेशनल कोर्स है| इस कोर्स में छात्र को हिसाब किताब से संबंधित पढ़ाई कराई जाती है| CA का मुख्य काम किसी कंपनी या बिजनेस के एकाउंटिंग और फाइनेंस कार्य को मैनेज करना होता है| यानी कि उस कंपनी के हिसाब किताब को देखना होता है। CA उस कंपनी के अकाउंट से जुड़े हुए सारे काम देखता है जैसे कि बैलेंस शीट तैयार करना, टैक्स रिटर्न भरना, कंपनी के बिजनेस अकाउंट को देखना और financial सलाह भी CA के द्वारा ही दी जाती है। 

आजकल हर कंपनी चाहे वह प्राइवेट, पब्लिक सेक्टर हो या गवर्नमेंट कंपनी ही क्यों ना हो हर कोई चाहता है कि उनकी कंपनी में एक financial accountant उनके के सारे फाइनेंसियल कार्य को अच्छे से मैनेज कर सके| इसलिए सीए की जॉब को भी बड़ा सम्मान जनक जॉब माना जाता है| जैसे भारत में डॉक्टर, इंजीनियर को भी सम्मानजनक पद माना जाता है। 

देश में हर साल CA की पढ़ाई करने के लिए लाखों लोग मन लगाकर पढ़ाई करते हैं क्योंकि आज के समय में CA की जरूरत हर कंपनी को होती है| इसलिए अगर आप भी CA की पढ़ाई करने के बारे में सोच रहे हैं या कर रहे हैं तो आपको भी मन लगाकर पढ़ाई करनी चाहिए क्योंकि CA की job मिलना भी अपने आप में एक बहुत ही मुश्किल कार्य होता है।

CA का पूरा नाम क्या है?

CA इंग्लिश का शब्द है जिसे हम Chartered Accountant कहते हैं| अगर CA को भारतीय भाषा में समझा जाए तो भारतीय भाषा में CA को मुनीम कहते हैं। जैसे पहले जमाने में किसी कंपनी या बिजनेस के हिसाब किताब और लोगों को वित्तीय सलाह देने का काम मुनीम का होता था| ठीक उसी तरह आज के समय में यह कहा चार्टर्ड अकाउंटेंट के द्वारा किया जाता है। CA को हिंदी में “सनदी लेखाकार” या “अधिकारपत्रप्राप्त लेखाकार” के नाम से भी जाना जाता है।

CA का क्या कार्य

किसी कंपनी या फर्म के वित्त से जुड़े हुए कार्यों में CA ही सलाह देता है| हम कह सकते हैं कि CA finance और business के काम में निपुण होता है तो अगर आप भी जानना चाहते हैं कि CA का कार्य क्या होता है तो उसकी जानकारी हमने नीचे दी गई है कि वह कौन-कौन से कार्य करता है जैसे कि

  • CA किसी भी firm के लिए financial statement पर नजर बनाए रखता है और उसमें आने वाले जोखिम को भी analyze करता है। 
  • CA द्वारा ही कंपनी के accounting statement को तैयार किया जाता है और उसका निर्माण किया जाता है। 
  • इसके अलावा CA कंपनी के Tax Planning, business transaction, insolvency, merger and joint venture में महत्वपूर्ण वित्तला देता है।
  • CA का काम financial accounting में धोखाधड़ी का पता लगाना होता है और उस धोखाधड़ी को रोकना होता है
  • CA कंपनी के फाइनैंशल स्थिति को वेरीफाई करता है और उसे ऑडिट करता है।

CA Day कब एवं क्यों मनाया जाता है?

आप में से ऐसे बहुत से लोग होंगे जो कि CA को सिर्फ एक जॉब की तरह ही देखते होंगे लेकिन ऐसा नहीं है| भारत में 1 जुलाई को Chartered Accountant यानी CA Day मनाया जाता है क्योंकि साल 1949 में institute of chartered Accountant of india यानी कि ICAI की स्थापना की गई थी और उस समय सांसद में पारित एक अधिनियम के तहत इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया अर्थात ICAI की स्थापना की गई थी| इसीलिए हर साल 1 जुलाई को Chartered Accountant दिवस मनाया जाता है और CA को सम्मानित किया जाता है। 

ICAI दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अकाउंटिंग ऑर्गेनाइजेशन के रूप में मानी जाती है और यह हमारे देश की राष्ट्रीय पेशेवर एकाउंटिंग बॉडी है। अभी तक हमने आपको CA के बारे में काफी जानकारी शेयर कर दी है तो चलिए अब हम आपको बताते हैं कि CA से जुड़े शानदार facts कौन-कौन से हैं।

Facts About ICAI in Hindi

भारतीय संसद अधिनियम 1949 के तहत ICAI भारत का सबसे पुराना पेशेवर निकाय (प्रोफेशनल बॉडी) में से एक है| जैसे कि हमने आपको बताया था कि ICAI दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा और काउंटिंग ऑर्गेनाइजेशन है परंतु CPA यानी कि अAmerican Institute of certified Public accountants दुनिया का पहला सबसे बड़ा एकाउंटिंग ऑर्गेनाइजेशन है। हम आपको बताना चाहेंगे कि ICA में reservation का कोई भी मसला नहीं होता है यानी कि यहां बिना किसी आरक्षण मानदंड के बगैर admission दी जाती है। गोपालदास पदमासी कपाड़िया जी को ICAI द्वारा सबसे पहला सर्टिफिकेट दिया गया था जो कि ICAI के पहले प्रेसिडेंट के रूम में भी माने जाते हैं।

क्या Chartered Accountant का एग्जाम कोई भी Stream के विद्यार्थी दे सकते हैं?

जी हां कोई भी छात्र12वीं की परीक्षा पास करने के बाद Chartered Accountant का exam दे सकता है| अगर आप दसवीं क्लास में पढ़ रहे हैं और पहले से ही CA बनने का सपना देख रहे हैं तो आपको दसवीं पास करने के बाद 11वीं commerce stream करनी चाहिए और आपके लिए काफी फायदेमंद भी होगा क्योंकि अगर आप सीए की पढ़ाई commerce से करते हैं तो उसमें ज्यादातर सब्जेक्ट commerce से संबंधित होते हैं। 

परंतु अगर आप Artsके साथ के 12वीं की पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको सीए का एग्जाम पास करने के लिए अलग से कोचिंग लेनी होगी क्योंकि सीए का एग्जाम बहुत ज्यादा कठिन होता है और CA का पहला exam Cpt विद्यार्थियों के लिए बिल्कुल भी आसान नहीं होता है इसको पास करने के लिए आपको बहुत ही ज्यादा मेहनत करने की जरूरत होती है। 

चलिए अब हम उन योग्यताओं की बात कर लेते हैं जो की प्रत्येक छात्र में होनी चाहिए जो CA बनना चाहता है

  • सबसे पहले किसी भी stream में 12वी पास होना जरूरी है। ध्यान रखने वाली बात यह है कि अगर आप पढ़ाई करना चाहते हैं तो उसके लिए आपकी सिर्फ 12वीं पास होनी चाहिए इसमें यह मैटर नहीं करता है कि आपने किस stream से और कितने पर्सेंट से पास करी है।
  • 12वीं पास करने के बाद CA की परीक्षा हेतु छात्र को पहले cpt. (Common Proficiency Test) एग्जाम को पास करना होता है। आपको एग्जाम देने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है| एग्जाम पास होने के बाद ही आपकी CA बनने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है।

भारत में CA के लिए सर्वश्रेष्ठ कॉलेज (Best College For CA in India)

  • Shree Ram College of Commerce (Delhi)
  • Loyala College (Chennai)
  • St. Xavier’s College (Mumbai)
  • Christ University (Bangalore)
  • Narsee Monjee College of Commerce and Economics (Maharashtra)
  • Hansraj College (Delhi)
  • Lady Shree Ram College For Women (New Delhi)
  • Hindu College University (New Delhi)
  • Madras Christian College (Chennai)
  • Stella Maris College (Chennai)

CA Foundation Course Syllabus

The papers in CA Foundation course are as follows:

Paper 1: Principles And Practice Of Accounting

Paper 2: Business Laws And Business Correspondence

a) Business Laws

b) Business Correspondence And Reporting

Paper 3: Business Mathematics, Logical Reasoning And Statistics

a) Business Mathematics

b) Logical Reasoning

c) Statistics

Paper 4: Business Economics And Business & Commercial Knowledge

a) Business Economics

b) Business and Commercial Knowledge

CA की तैयारी कैसे करे?

सबसे पहले तो हम आपको बताना चाहेंगे कि अगर आप CA बनना चाहते हैं तो उसके लिए आपको कड़ी मेहनत करने की जरूरत होती है क्योंकि सीए का एग्जाम पास करने के लिए आपको बहुत ज्यादा पढ़ाई करनी पड़ती है और CA बनना अपने आप में ही एक मेहनत और मुश्किल भरा काम होता है| CA बनने के लिए आपको 10वीं से ही इसकी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए| आप दसवीं परीक्षा के बाद ही CPT एग्जाम देने के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं| उसके बाद आपको 12वीं कक्षा में commerce के सब्जेक्ट पर ही पढ़ाई करनी होगी और उसमें कम से कम आप के 50% होने चाहिए। 12वी कक्षा के बाद CPT की परीक्षा दे सकते हैं।

हम आपको बताना चाहेंगे कि आप 12वीं में अगर आपने arts रखा है तो उसके बाद भी आप CPT की परीक्षा दे सकते हैं| हमने commerce का आपको इसलिए बोला है क्योंकि अगर आप 12वीं की कक्षा commerce के साथ पास करते हैं तो आपको CPT का एग्जाम पास करने में आसानी होती है क्योंकि 12वीं में आपको accounting, financial management और business management से संबंधित सब्जेक्ट ही पढ़ाए जाते हैं| जो सब्जेक्ट आपको CA के course में आते हैं वह लगभग आपके 12वीं की commerce के कोर्स में पढ़ाए जा चुके होते हैं। CPT की परीक्षा साल में 2  बार आयोजित की जाती है| पहली बार जून के महीने में और दूसरी बार दिसंबर के महीने में आयोजित होती है।

CA बनने के बाद कौन-कौन से जॉब कर सकते हैं?

आजकल CA की डिमांड प्रतिदिन बढ़ती जा रही है| अगर आप किसी अच्छी कंपनी में CA बनकर join करते हैं तो आप वहां पर किसी अच्छे पद पर नौकरी कर सकते हैं| जैसे कि accountant, accounts manager, special audit chairman, managing director, ceo, finance director, financial controller, chief accountant, chief internal, auditor etc.

इसके अलावा भी आप कंपनी में नीचे बताए गए पदों पर काम कर सकते हैं।

  • Accounting & Financing
  • Accounting Clerk
  • Taxation Advisory
  • Internal Auditing
  • Tax Auditing
  • Chief Executive Offer (CEO)
  • Chief Finance Officer (CFO)
  • Forensic Auditing
  • Cost Accountants
  • Business Service Accounting

CA बनने के बाद कौन कौन से डिपार्टमेंट में नौकरी कर सकते हैं?

CA बनने के बाद आप किसी Private, Government Bank, Industries और companies में बहुत अच्छे पदों पर नौकरी कर सकते हैं।

  • Finance Companies
  • Private and Public Sector Banks
  • Pvt Limited Companies
  • Patent Firms
  • Legal Firms
  • Auditing Firms
  • Investment Houses
  • Stockbroking Management
  • Portfolio Management Companies

CA बनने के बाद सैलरी?

हम आपको बताना चाहेंगे कि CA का पैकेज बहुत ही अच्छा होता है| यानी कि वह काफी अच्छी सैलरी बना लेते हैं| अगर हम CA के औसतन पैकेज की बात करें तो 6 – 7 लाख से लेकर 30 लाख तक का पैकेज होता है| अगर वहीं इंटरनेशनल पैकेज की बात करें तो वह 75 लाख तक का होता है।

अगर हम भारतीय कंपनियों की बात करें तो भारतीय कंपनियों में Professional CA  अगर Junior Level पर काम कर रहा है तो उसे महीने का 20 से 25 हजार रुपये दिए जाते है और Senior Level पर CA को महीने का 40 से 55000 हजार रुपये दिए जाते है| अगर सीए को 2 से 3 साल का experience हो जाता है तो उसकी सैलरी महीने की 60 से 80 हजार रुपये हो जाती है।

Conclusion

दोस्तों अब आप जान चुके हैं कि CA का फुल फॉर्म क्या है, CA को हिंदी में क्या कहते हैं, CA का पूरा नाम क्या है, CA के कार्य क्या है, CA बनने के बाद सैलरी कितनी होती है, CA बनने के लिए योग्यता क्या क्या है| उम्मीद करते हैं कि हमारी यह पोस्ट पढ़ने के बाद आपके मन में CA से संबंधित जितने भी सवाल थे उनके आपको जवाब मिल गए होंगे। अगर हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी से संबंधित आपको कोई भी डाउट है या आपनी राय देना चाहते हैं तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

ये भी पढ़े:

MBA का फुल फॉर्म क्या है?

GST का फुल फॉर्म क्या है?

BA का फुल फॉर्म क्या है?

LLB की फुल फॉर्म क्या है?

FAQ (Frequently Asked Questions)

क्या Arts Stream लेकर भी CA किया जा सकता है?

जी हां Arts Stream लेकर भी CA किया जा सकता है| अगर छात्र ने दसवीं के बाद Arts के subjects लिए हुए हैं तो 12वीं के बाद entrance exam देकर भी CA कर सकता है।

CA का full form क्या है?

CA का full form Chartered Accountant है।

ICAI का full form क्या है?

ICAI का full form Institute of Chartered Accountants of India है।

CA बनने के लिए कौन-कौन सी परीक्षाएं पास करनी होती है?

CA बनने के लिए तीन परीक्षा में पास करनी होती है।

  • CPT Exam
  • IPCC exam
  • FC exam

चार्टर्ड अकाउंटेंट क्या करता है?

CA प्रोफेशनल होता है, जिसका काम किसी पब्लिक प्राइवेट या गवर्नमेंट कंपनी के लिए वित्त का प्रबंध कर करना और वित्त सलाह देना होता है और साथ ही वे धन प्रबंधन में भी मदद करता है।

CA कोर्स की फीस कितनी होती है?

जब भी कोई स्टूडेंट CA यानी चार्टर्ड अकाउंटेंट का कोर्स करता है तो उसके लिए जिस कॉलेज में वह कोर्स करने जा रहा है उसकी फीस कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है| हम आपको बताना चाहेंगे कि गवर्नमेंट कॉलेज में CA की फीस प्राइवेट कॉलेज की फीस की तुलना में बहुत कम होती है।

परंतु हम आपको बताना चाहते हैं कि CA की फीस के लिए आपको foundation को उसके लिए 9200 रुपए की फीस भरनी होती है| उसके बाद आपको 18000 रुपए intermediate course के लिए भरने होते हैं और फिर 22000 रुपए आपको final level पर फीस जमा करवानी होती है| इसके अलावा आपको रजिस्ट्रेशन फीस देनी होती है जो कि 1000 रुपए से अधिक होती है| तो इस हिसाब से अगर देखा जाए तो आपकी CA कोर्स की फीस लगभग 2 से 5 लाख तक पहुंच सकती है।

CA बनने के लिए Age Limit कितनी होती है?

CA बनने के लिए कोई भी Age Limit निर्धारित नहीं की गई है| आप 10वीं और 12वीं कक्षा पास करने के बाद ही CA बनने के लिए eligible हो जाते हैं।

CA बनने के लिए योग्यता (Qualification For CA)

CA बनने के लिए उम्मीदवार की 12वीं की परीक्षा पास होनी चाहिए और 12वीं में उसके कम से कम 50% अंक होने चाहिए। CA में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवार के लिए चपट और IPCC का एग्जाम देना जरूरी होता है। CA बनने के लिए कोई भी Age Limit नहीं होती है। किसी भी stream के उम्मीदवार CA कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।

CA Full Form in Commerce?

CA full form in commerce chartered accountant होता है|

CA बनने में कितना समय लगता है?

सीए का कोर्स करने के लिए न्यूनतम अवधि 3 वर्ष होती है| उसके बाद आप 9 महीने के बाद IPCC की परीक्षा दे सकते हैं| जिसके बाद आपको चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए ढाई से 3 साल की आर्टिकलशिप की पूरी करनी होती है।

CA को हिंदी में क्या बोलते हैं?

CA को हिंदी में “सनदी लेखाकार” या “अधिकारपत्रप्राप्त लेखाकार” के नाम से भी जाना जाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top