HTML क्या है | HTML कैसे काम करता है | HTML Full Form क्या है?

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं कि HTML क्या है? (What is HTML in Hindi) सबसे पहले मैं आपको बताना चाहूंगा कि html एक coding language है जिसमें codes के जरिए लोग website या webpage बनाते हैं। अगर आप ऑनलाइन पैसा कमाना चाहते हैं या यूं कह लीजिए अगर आप ऑनलाइन blogging करना चाहते हैं और blogging से पैसा कमाना चाहते हैं तो उसके लिए आपके पास website का होना बहुत जरूरी है क्योंकि आप उसी वेबसाइट के जरिए अपनी इंफॉर्मेशन शेयर कर सकते हैं और लोगों तक पहुंच सकते हैं। 

अगर आपकी वेबसाइट पर काफी अच्छा ट्रैफिक आने लगता है तो आप अपनी वेबसाइट से काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं| Blogging के अलावा भी ऐसे बहुत से काम है जिसकी मदद से लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करके काफी सारा पैसा कमा रहे हैं| अगर आप भी पैसा कमाने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके लिए सबसे जरूरी जो है वह website है| क्योंकि वेबसाइट बना कर ही आप blogging कर सकते है और पैसा कमा सकते है| चलिए हम आपको बताते हैं HTML का इस्तेमाल करके आप वेबसाइट कैसे बना सकते हैं| हम आपको बताएंगे HTML क्या है? HTML की विशेषता क्या है चलिए दोस्तों अब हम शुरू करते हैं।

HTML Full Form क्या है?

HTML Full Form “Hypertext Markup Language” है|

एचटीएमएल क्या है – What is HTML in Hindi

HTML – Hypertext Markup Language जिसका short name  HTML है| HTML की खोज Physicist Tim Berners-Lee  ने साल 1980 में Geneva में की थी| HTML  एक platform-independent language है| जिसको आप किसी भी platform जैसे Windows, Linux, Macintosh में इस्तेमाल कर सकते हैं। 

HTML एक कंप्यूटर लैंग्वेज है जिसकी मदद से आप वेबसाइट को बना सकते हैं और उस वेबसाइट को और भी अच्छे से डिजाइन करने के लिए आप CSS का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। HTML दूसरी कंप्यूटर language जैसे कि C, C++, JAVA की तरह ही एक language है| परंतु यह इन सब language से बहुत ज्यादा आसान है और इसे आप बहुत ही कम समय में और आसानी से सीख सकते हैं।

HTML का इतिहास – HTML History in Hindi

जैसे कि हमने आपको बताया था कि HTML को खोज Tim Berners-Lee ने की थी| HTML का विकास 90 के दशक में हुआ था जो कि अभी भी इस्तेमाल की जा रही है| तब से लेकर अब तक HTML में लगातार upgrades किए जा रहे हैं| जिसके कई सारे संस्करण भी आ चुके हैं| वर्तमान समय में एचटीएमएल को अपग्रेड करने की जिम्मेवारी World Wide Web Consortium (W3C) के पास है जो इस समय एचटीएमएल के अपग्रेड्स और errors का क्या ध्यान रखती है।

Basic Structure of HTML – एचटीएमएल की मूल संरचना

किसी भी web page को डिजाइनर करने के लिए कुछ बेसिक HTML Tags का इस्तेमाल करना पड़ता है| इन Tags के बिना आप किसी भी web page को डिजाइन नहीं कर सकते हैं| वह HTML Tags कुछ इस प्रकार है।

<!DOCTYPE html> यह कोई HTML Tag नहीं है| यह HTML5 को परिभाषित करता है और वह ब्राउज़र को बताता है कि किस प्रकार के दस्तावेज की उम्मीद है।

  • <html>: यह एक head tag होता है।
  • <head>:यह html page का head tag होता है।
  • <title>: यह वेब पेज का title section होता है।
  • <body>: यह वेब पेज का body section होता है जिसमें आप content, image, tabs etc का इस्तेमाल करते हैं।
  • <h1>: इस  का इस्तेमाल वेब पेज में हेडिंग देने के लिए किया जाता है| HTMLमें H1 से लेकर H6 Tag  का इस्तेमाल किया जाता है।
  • <p>: इस tag का इस्तेमाल paragraph बनाने के लिए किया जाता है।

HTML के प्रकार (Types of HTML)

समय के साथ-साथ HTML के version में changes आते रहे और HTML को अपग्रेड करते रहे हैं| साल 2022 में वेब पेज को विकसित करने के लिए HTML5 का ज्यादातर उपयोग किया जाता है| 

HTML5 को तीन श्रेणियों में बांटा जा सकता है।

Transitional HTML

यह HTML का सामान्य प्रकार है यह syntax flexible होता है यानी कि इसमें syntex restriction नहीं होती है| Restriction के बिना ही इस्तेमाल किया जाता है| इसका मतलब यह हुआ कि अगर आप गलत tag का इस्तेमाल करते हैं तो web browser, developer की error को ठीक नहीं करता है वह वैसे ही उसको web browser में प्रदर्शित कर देता है| 

Frameset HTML

इस प्रकार के HTML का इस्तेमाल web developers के द्वारा मोज़ेक बनाने के लिए किया जाता है| जिसमें आप एक से ज्यादा दस्तावेज को एक ही screen में जोड़ सकते हैं| इसका अक्सर उपयोग वेबपेज के Menu System को बनाने के लिए किया जाता है।

Strict HTML

इस प्रकार के HTML में restrict लगाई गई है| इसलिए इसको Strict HTML कहा जाता है| उदाहरण के तौर पर अगर आप अपने HTML कोड में कोई Tag को open करते हैं तो उस close करना जरूरी होता है| यह error free code को तेजी से लोड करने में मदद करता है।

HTML का क्या Use होता है?

HTML language का इस्तेमाल webpage को बनाने के लिए किया जाता है| आप HTML की मदद से अपनी वेबसाइट को बहुत ही आसानी से और जल्दी से बना सकते हैं| इसके लिए आपको दो चीजों की जरूरत होती है| एक Notepad और एक Web Browser जैसे कि Google Chrome, Mozilla Firefox, Internet Explorer etc. 

Notepad का इस्तेमाल इसलिए किया जाता है क्योंकि इसमें आप अपने code लिख सकते हैं। HTML छोटे-छोटे की series होती है| इन छोटे-छोटे code को tags कहते हैं| इस tags के अंदर ही आप code को लिखते हैं| जो ब्राउज़र को बताता है कि वेबसाइट में कैसे और कहां पर क्या दिखाना है। HTML में काफी सारे tags का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि colours, graphics, fontsize जिस से आप अपनी वेबसाइट को और भी ज्यादा आकर्षक बना सकते हैं|

HTML Code को Notepad फाइल में लिखना होता है| उसके बाद उस फाइल को save करना होता है| पर ध्यान रहे आपको उस नोटपैड फाइल को .htm या फिर .html के साथ ही save करना होता है क्योंकि उसके बाद ही ब्राउज़र आपके उस HTML Document को web browser में दिखाता है| अगर आप फाइल को ऐसे save नहीं करते हैं तो ब्राउज़र आपके डॉक्यूमेंट को नहीं दिखाता है।

जब आप अपने HTML Document फाइल को सेव कर लेते हैं तो वह ब्राउज़र आपकी HTML Document की मदद से उस फाइल को देख सकते हैं क्योंकि वह ब्राउज़र आपकी HTML फाइल को read करके आपके code को translate करके जैसे आपने सोचा होता है या जिस हिसाब से आप ने code का इस्तेमाल किया होता है| उस हिसाब से वेबसाइट को दिखाता है। हम आपको बताना चाहेंगे कि जो HTML Tags आप ने अपनी वेबसाइट में इस्तेमाल करें हैं उन वह Tags को ब्राउज़र आपकी वेबसाइट पर नहीं दिखाता बल्कि आपके डॉक्यूमेंट के अंदर ही दिखाता है। या हम यह भी कह सकते हैं कि उनको browser frontend पर नहीं बल्कि backend पर दिखाता है।

HTML Tags कैसा होता है?

HTML language में  tags का इस्तेमाल किया जाता है| HTML tags, Text से बिल्कुल अलग होता है जिसकी मदद से HTML Code लिखा जाता है| हम आपको बताना चाहेंगे कि एचटीएमएल tags, keywords होते है जिनको brackets के अंदर लिखा जाता है जैसे कि जैसे <html>  इसकी मदद से ही हम वेबसाइट को डिजाइन कर सकते हैं| अगर हम वेबसाइट में images, tables, colors डालना चाहते हैं तो उसके लिए भी tags का इस्तेमाल ही किया जाता है| जिनकी मदद से वेबसाइट को बनाया जाता है। 

HTML में हजारों तरह के tags का इस्तेमाल किया जाता है| हर tags का कार्य अलग-अलग होता है| इन tags को इस्तेमाल करके ही हम प्रोफेशनल वेबसाइट बना सकते हैं| तो चलिए दोस्तों अब हम आपको महत्वपूर्ण tags के बारे में बताते हैं जिनका एचटीएमएल वेबसाइट के लिए इस्तेमाल करना बहुत ज्यादा जरूरी होता है| पर उससे पहले हम आपको बताना चाहेंगे कि tags coding शुरू करने से पहले comment लिखा जाता है| जिसमें author को यह पता चलता है कि HTML का जो पेज बनाने जा रहा है किसके बारे में है।

परंतु यहां ध्यान रखने वाली बात यह है कि HTML Tagsके अंदर जो comment लिखा जाता है उसका इस्तेमाल करना जरूरी नहीं होता| यह आप पर निर्भर करता है कि आप HTML में comment का इस्तेमाल कर रहे हैं या नहीं| अगर आप comment का इस्तेमाल कर रहे हैं तो comment <!”….”>  के अंदर लिखा जाता है और यह कमेंट आपको वेब ब्राउज़र में दिखाई नहीं देता| 

Comment Tag के बाद सबसे जरूरी tag, Head Tag होता है| head tag में डॉक्यूमेंट के बारे में जानकारी दी जाती है| कमेंट को छोड़कर बाकी सभी tag को start और end करना होता है जैसे कि

<title>…….. </title>

जैसे कि हमने आपको ऊपर example में बताया है ठीक उसी तरह जब भी आप अपने html code में किसी भी tag का इस्तेमाल करते हैं तो जब उस tag को start किया जाता है तो उस tag को end भी करना जरूरी होता है| अगर आप उसको end नहीं करते हैं तो उस tag का असर आपके वेब ब्राउज़र में नहीं दिखाई देता है। इसके अलावा HTML जो tag का इस्तेमाल किया जाता है वह keyword case-insensitive होते हैं| मतलब कि आप tags को बड़े अक्षर या छोटे अक्षर किसी में भी लिख सकते हैं यह आप पर निर्भर करता है कि आप किस तरह से अपने tags को लिख रहे हैं| 

हमने ऊपर example में <head> के बीच बिंदुओं का इस्तेमाल किया है इसका मतलब यह है कि आप यहां पर अपना Text लिख सकते हैं। head tag किसी भी webpage के लिए सबसे जरूरी होता है क्यूंकि उसके अंदर आप title लिख सकते हैं जो कि आपके webpage के title को दर्शाता है| 

<title>This is my first web page</title>

जैसे कि जो हमने ऊपर example में आपको बताया है जब भी आप webpage को ब्राउज़र में open करते हैं तो आपके ब्राउज़र के title bar बार में ऊपर लिखा हुआ आपको दिखाई देगा।

Title tag के बाद सबसे जरूरी Body Tag होता है| आपके पेज में जितने भी आप images, tables, content जो भी इस्तेमाल करना जा रहे हैं वह आप इस Body Tag के अंदर ही लिखते हैं| Body Tag का इस्तेमालwebpage को आकर्षक बनाने के लिए भी किया जाता है जैसे कि आप Body Tag में color का भी इस्तेमाल कर सकते हैं उदाहरण के तौर पर

<body bgcolor=”yellow” text=”blue”>

Hello! How are you?

</body>

जैसे कि ऊपर example में बताया है तो उसके अनुसार bgcolor कलर का मतलब background color होता है| हमारे द्वारा ऊपर बताए गए code के मुताबिक webpage का background color “YELLOW” दिखाई देगा और जो text का इस्तेमाल किया जाएगा वह “BLUE” कलर में दिखाई देगा| इस तरह आप अपने Body Tag में Text का इस्तेमाल करके अपने वेबपेज को और भी ज्यादा आकर्षक बना सकते हैं| आपका html document हमेशा इसी रूप में होना चाहिए:-

  • <html>
  • <head>
  • <title>———————</title>
  • </head>
  • <body>
  • <h1>——</h1> – इसे केहते हैं heading tag जो छोटे अक्षरों में दीखता है.
  • <p>——–</p> -इसे केहते है paragraph tag जहाँ आप paragraph लिख सकते हैं.
  • <b>——–</b> – इसे केहते हैं bold tag जो आपके लिखे हुए text को bold करदेगा.
  • </body>
  • </html>

HTML कैसे काम करता है?

  • <div> इसका इस्तेमाल section बनाने के लिए किया जाता है।
  • <h1> web page में headings देने के लिए h1-h6 tag का इस्तेमाल किया जाता है।
  • <p> web page में paragraph बनाने के लिए इस tag का इस्तेमाल किया जाता है।
  • <a> एक web page से दूसरेweb page को link करने के लिए hyperlink tag का इस्तेमाल किया जाता है।

Syntex

<div>

<h1>What is HTML </h1> 

<p>How to learn HTML</p> 

<p><a href=”https://www.welovewrite.com“>We Love Write</a> </p>

</div>

HTML का उपयोग कहाँ और कैसे किया जाता है?

अब आप सोच रहे होंगे कि यह कैसा सवाल पूछा है कि HTML का उपयोग कहां किया जाता है| जैसे अभी तक हमने बताया है की HTML का इस्तेमाल पेज को डिजाइन करने के लिए किया जाता है। HTML Document को बनाने के लिए किया जाता है। लेकिन एचटीएमएल सिर्फ वेब पेज को बनाने तक ही सीमित नहीं है HTML का इस्तेमाल कुछ इन कामों में भी किया जाता है जैसे कि:-

  • Web Page Development
  • Navigation
  • Game Development
  • Responsive Graphics
  • Web Document Formatting

Features of HTML

जैसे कि हम जानते ही हैं कि दिन बर दिन टेक्नोलॉजी का विकास बढ़ता ही जा रहा है और requirements को देखते हुए HTML में भी काफी ज्यादा improvement किए जा रहे हैं| इंप्रूवमेंट की बदौलत ही HTML5 को लांच किया गया है और इसकी विशेषताएं कुछ इस प्रकार है:-

Clear Syntax

HTML में जो Syntax इस्तेमाल किए जाते हैं वह बिल्कुल clear होते हैं| जिसकी वजह से इन्हें modify करना भी बहुत ज्यादा आसान होता है।

Graphics

HTML के upgraded version HTML5 में Graphics का बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया गया है| HTML5 में SVG (Scalable Vector Graphics) या Canvas का उपयोग किया गया है| जिस से आप आसानी से Graphics बना सकते हैं।

New Format

Html5 में Date, Time, Calendar जैसे new format भी add किए गए हैं।

HTML कैसे सीखें – How to Learn HTML in Hindi?

अगर आप भी coding में इंटरेस्ट रखते हैं और HTML सीखना चाहते हैं तो आप कुछ समय की ट्रेनिंग लेकर अपना खुद का वेब डॉक्यूमेंट या वेब पेज या वेबसाइट भी बना सकते हैं| अगर आप एक Professional HTML Developer पर बनना चाहते हैं तो आप नीचे बताएगा तरीकों से एचटीएमएल सीख सकते हैं।

  • ऑनलाइन सीखें
  • वेब डिजाइनिंग कोर्स जॉइन करें
  • किताबें खरिदें
  • ऑफलाइन ट्युटोरिंग लें
  • यूट्यूब से सीखें

HTML के फायदे (Benefits of HTML In Hindi)

  • HTMLलैंग्वेज को सीखना बहुत ही ज्यादा आसान है| 
  • HTML का इस्तेमाल सभी वेब ब्राउज़र पर किया जा सकता है। 
  • इसके कोड को edit करना बहुत ही ज्यादा आसान है। 
  • HTML एक ऐसी लैंग्वेज है जिसे दूसरी लैंग्वेज के साथ mix करके भी इस्तेमाल किया जा सकता है। 
  • यह open source लैंग्वेज है यानी कि यह बिल्कुल फ्री लैंग्वेज है। 
  • HTML editing करने के लिए किसी भी प्रकार के software की जरूरत नहीं पड़ती है| इसको सिर्फ HTML Editor के साथ ही इस्तेमाल किया जा सकता है।

Conclusion

अब आप जान चुके हैं कि HTML क्या है, Basic Structure of HTML क्या है, HTML के प्रकार, HTML का यूज़ कैसे होता है, HTML Tag का इस्तेमाल कैसे होता है, HTML कैसे काम करता है, HTML के features क्या है, HTML के फायदे क्या है| उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी को पढ़ने के बाद आपके एसटीएमएल से संबंधित जितने भी सवाल थे उनके आपको जवाब मिल गए होंगे| अगर आपको हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी से संबंधित कोई भी डाउट हो या फिर आप हमें कोई राय देना चाहते हैं तो हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

ये भी पढ़े:

Yahoo क्या है?

वेबसाइट क्या है?

Instagram क्या है?

इंटरनेट की खोज किसने की और कब?

FAQ (Frequently Asked Questions)

HTML का पूरा नाम (HTML Full Form In Hindi)

HTML का पूरा नाम Hypertext Markup Language है|

HTML का अविष्कार किसने किया था?

HTML का अविष्कार Tim Berners Lee ने किया था|

HTML का पूर्ण रूप क्या है?

HTML का पूर्ण रूप Hypertext Markup Language है|

HTML की खोज किसने की?

HTML की खोज Tim Berners Lee ने साल 1990 में की थी| 

HTML में Heading कितने प्रकार का होता है?

HTML में Heading Tag 6 प्रकार के होते हैं.

  • <H1> 1st Level Of Heading </H1>
  • <H2> 2nd Level Of Heading </H2>
  • <H3> 3rd Level Of Heading </H3>
  • <H4> 4th Level Of Heading </H4>
  • <H5> 5th Level Of Heading </H5>
  • <H6> 6th Level Of Heading </H6>

HTML Tag क्या होते हैं?

HTML लैंग्वेज में कुछ स्पेशल code बनाए गए हैं| जिनकी मदद से ब्राउज़र और सॉफ्टवेयर को commands दी जाती है| इन्हें HTML Tag कहते हैं।

HTML Tag को कितने Category में विभाजित किया गया है?

HTML Tags को दो Category में विभाजित किया गया है – Paired Tag और Unpaired Tag.

HTML किस प्रकार की Language है?

HTML एक Markup Language है| जिसे आसानी से सीखा जा सकता है| 

HTML को Markup Language क्यों कहते हैं?

HTML के Tag के बीच आने वाले Content में कुछ न कुछ Mark होता है, जैसे Bold, Italic Built. इसलिए Language को Markup Language कहा जाता है|

HTML का उपयोग किस लिए किया जाता है?

HTML का उपयोग website या Webpage को बनाने के लिए किया जाता है|

HTML Editor क्या होते हैं?

HTML File एक Plain File होती है| इस file को Edit करने के लिए Editor की जरुरत होती है| जैसे Notepad++, यह एक HTML Editor हैं|

HTML Coding करने के लिए कौन – कौन से Tool की जरुरत होती है?

HTML Coding को करने के लिए Web Browser और HTML Editor की जरूरत होती है|

HTML 5.0 क्या है?

HTML 5.0 HTML का upgraded Version है| इसमें बहुत सारे features add किये गए है| इसे साल 2014 में launch किया गया था|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top