ITI kya hai, आईटीआई क्या होता है पूरी जानकारी

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि ITI क्या है? क्या आपने पहले कभी ITI के बारे में सुना है| ज्यादातर स्टूडेंट्स 10वीं या 12वीं पास करने के बाद अक्सर अपनी आगे की study को लेकर काफी कंफ्यूज रहते हैं और उस वक्त समझ नहीं पाते हैं कि उन्हें आगे क्या करना चाहिए? वह लोग अक्सर ही अपने सीनियर जा अपने फैमिली मेंबर से इसके बारे में सलाह लेते हैं। वह अक्सर ही ITI का कोर्स करने के बारे में आपको बताते हैं। 

हम यहां आपको यह भी बताना चाहेंगे कि लोग अक्सर ही ITI और IIT में कंफ्यूज हो जाते हैं क्योंकि यह दोनों शब्द में सिर्फ एक I का ही फर्क होता है परंतु यह दोनों आपस में बहुत ही ज्यादा अलग-अलग हैं।

यह वैसे तो IIT और ITI दोनों ही टेक्नोलॉजी फील्ड से संबंधित हैं लेकिन इनमें काफी ज्यादा फर्क है| IIT एक  premier technology institute है जो B.Tech, M.Tech और PhD जैसे research oriented चीजों की पढ़ाई के लिए की जाती है और वहीं दूसरी तरफ ITI एक ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट है जहां पर theory से ज्यादा practicals पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है| वही इसमें engineering और non-engineering technical fields की ट्रेनिंग प्रदान की जाती है। 

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि ITI course क्या है और ITI कोर्स करने के फायदे क्या है क्या हमें ITI कोर्स करना चाहिए और क्यों करना चाहिए|

ITI कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी की नौकरी मिल सकती है| इन सभी सवालों के अगर आप जवाब जानना चाहते हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें|

आईटीआई की परिभाषा क्या है – What is ITI in Hindi

ITI 10th और 12th के बाद ही किया जाता है| जो Directorate General of Employment of Training (DGET) के अधीन आता है और Ministry of Labour & Employment Union Government of India (भारत सरकार) का भी एक हिस्सा है| हम आपको बताना चाहेंगे कि ITI एक प्रकार का इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट होता है जिसे ITI कहा जाता है और यह engineering और non-engineering technical fields के स्टूडेंट को ट्रेनिंग प्रदान करता है| अगर आप इंजीनियरिंग फील्ड से हो या आप ने 10th 12th के बाद अगर ट्रेनिंग लेनी हो तो आप ITI से ट्रेनिंग ले सकते हैं| 

इन institutes को Students को technical knowledge प्रदान करने के लिए ख़ास तौर पर बनाया गया था| जिन Students ने 10th पास कर ली है उन्हें technical knowledge प्रदान करने के लिए बनाया गया है| इसके अलावा जो students technical field में आगे study नहीं करना चाहते है और सिर्फ इंडस्ट्री में काम करना चाहते है उनके लिए भी ITI की ट्रेनिंग काफी लाभदायक होती है| 

आईटीआई का फुल फॉर्म क्या है?

ITI का फुल फॉर्म है Industrial Training Institute है| इसे हिंदी में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान भी कहा जाता है|

ITI का मुख्य उद्देश्य क्या है?

ITI की शिक्षा प्रदान करने का मुख्य उद्देश्य यही था कि स्टूडेंट्स को technical field के बारे में उचित शिक्षा प्रदान की जा सके| ITI में प्रदान की जाने वाली टेक्निकल शिक्षा के लिए अलग-अलग कोर्स बनाए गए हैं और उन कोर्स के अनुसार ही स्टूडेंट्स को technical field  के बारे में पढ़ाया जाता है| अंत में स्टूडेंट्स को एक प्रैक्टिकल ट्रेनिंग लेनी होती है और यह ट्रेनिंग उनको उनके चुने हुए कोर्स के मुताबिक ही लेनी होती है|

इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग का समय 1 से 2 साल का होता है और स्टूडेंट को यह practical training पूरी करनी होती है| जब तक स्टूडेंट इस ट्रेनिंग को पूरा नहीं करते तब तक उन्हें National Council of Vocational Training (NVCT) certificate नहीं दिया जाता है| हम आपको यह भी बताना चाहेंगे कि ITI को government और private दोनों संस्थाएं चलाती है| लेकिन अगर हम दोनों संस्थाओं की बात करें तो government ITI संस्था की ज्यादा डिमांड होती है क्योंकि यह सभी राज्यों में स्थित होती है| जैसे कि पंजाब, हरियाणा, गुजरात, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश इत्यादि| 

ITI कितने प्रकार की होती है?

  • Engineering Trades
  • Non-engineering Trades

Engineering Trades

इंजीनियरिंग ट्रेड्स बिल्कुल ही Technological trade होती है| मतलब कि यहां पर स्टूडेंट्स को टेक्नोलॉजी से संबंधित शिक्षा प्रदान करी जाती है और इन trades में स्टूडेंट्स को ज्यादातर Science, Math और अन्य टेक्नोलॉजी के विषयों के बारे में शिक्षा प्रदान करें जाती है|

Non-Engineering Trades

Non-engineering Trades में टेक्निकल विषय नहीं होते हैं| इसके अलावा इन Trades में टेक्निकल और science से संबंधित विषय के बारे में भी नहीं पढ़ाया जाता है| इस Trades को सिर्फ वही स्टूडेंट्स के द्वारा लिया जाता है जिन्हें science में कम दिलचस्पी होती है| इसके अलावा ITI में 100 से भी अधिक ट्रेड्स होती है| जिनमें स्टूडेंट अपनी पसंद के अनुसार किसी भी ट्रेड में शिक्षा ले सकते हैं|  

ITI में Admission लेने की Eligibility Criteria क्या है?

अगर आप भी ITI में Admission लेना चाहते हैं तो उसके लिए भी कुछ eligibility criteria होते हैं और वह eligibility criteria इस प्रकार है। 

  • इसके लिए Candidate को 10th पास करा होना चाहिए और वह किसी एक recognized board से 10th पास करा होना चाहिए या फिर कोई अन्य exam जो 10th standard के समान recognized हो। 
  • Candidate को कम से कम 35% aggregate secure करना जरूरी होता है। 
  • Candidate की उम्र कम से कम 14 से 40 साल होनी चाहिए।

आईटीआई कैसे करे?

यह सवाल अक्सर ही छात्रों के मन में आता है कि ITI कैसे करें ITI की तैयारी कैसे करें? अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारे द्वारा नीचे बताए हुए steps को follow कर सकते हैं। 

  • सबसे पहले आपको अपने interest के अनुसार ITI Trade का चुनाव करना चाहिए।
  • फिर उसके बाद आपको ITI Entrance Exam देना होगा और साथ ही उस में अच्छे अंक भी लाने होंगे। 
  • Entrance Exam के बाद आपको इंटरव्यू भी भी उत्तीर्ण होना होगा।

Exam देने से पहले आपको यह तय कर लेना है कि आप किस field में ITI की पढ़ाई शुरू करना चाहते हैं क्योंकि आपको जिस field में interest है उसके अनुसार ही अपनी ITI की पढ़ाई शुरू करनी चाहिए| मान लीजिए अगर आपका interest Computer Science में है तो आपको Computer Science में ही ITI की पढ़ाई करनी चाहिए और अपने interest के अनुसार ही ITI की trade को चुनना चाहिए|  ITI की पढ़ाई लिए आपको मार्केट में बहुत सारी किताबें  मिल जाएँगी| अगर आप ऑनलाइन पड़ना चाहते है तोह उसके लिए आपको online बहुत सारा study material मिल जाएंगे| जिससे कि आप अपने field की पढ़ाई की prepration शुरू कर सकते हैं और इससे आपको पढ़ाई में काफी ज्यादा आसानी भी मिल जाएगी।

हम आपको बताना चाहेंगे कि आईटीआई में admission लेने के लिए हर साल July/August के महीने में online form apply किए जाते हैं और उसके बाद ही आपको Entrance Exam देना होता है| जिससे कि आप आईटीआई कॉलेज में admission ले सकते हैं| परंतु हर साल आईटीआई के लिए एग्जाम देने वाले छात्रों की गिनती बहुत ज्यादा होती है| इसलिए इस बात का आप को खास ध्यान रखना है कि आपको आईटीआई के एग्जाम में बहुत ही अच्छे नंबर लाने हैं ताकि आपका नाम उस Merit List/Cutt-Off में आ सके| अगर आपका नाम Merit List में आ जाता है तो उसके बाद आप की Counselling की जाती है जिसमें आपको कॉलेज चुनने के लिए विकल्प प्रदान किया जाता है| 

ITI entrance exam में पास होने के बाद आपके पास एडमिशन लेने के लिए दो विकल्प होते हैं एक Government College और दूसरा Privates College और आपको अपनी रैंकिंग के अनुसार ही इन कॉलेज में आपको एडमिशन मिलती है| 

ITI मे Admission के लिए जरूरी डॉक्युमेंट्स

अगर आप भी ITI कोर्स करना चाहते हैं तो आपको अपने documents को complete रखना होगा उसके बाद ही आप अपने डॉक्यूमेंट सबमिट करवाने के बाद आईटीआई में प्रवेश कर सकते हैं और वह डॉक्यूमेंट कुछ इस प्रकार हैं:\-

  • 8th/10th/12th की मार्कशीट होनी चाहिए| 
  • SC/OBC/EWS कास्ट सर्टिफिकेट होना चाहिए|
  • आपके पास आधार कार्ड या अन्य प्रमाण पत्र होने चाहिए| 
  • आपके पास बैंक खाता का पासबूक की कॉपी होनी चाहिए| 
  • वर्तमान समय के 2 पासपोर्ट साइज़ फोटो होनी चाहिए| 
  • डेबिट/क्रेडिट कार्ड पेमेंट हेतु| 

ITI कोर्स करने के फायदे क्या है?

  • ITI कोर्स का सबसे ज्यादा फायदा यह है कि इस कोर्स में आपको प्रैक्टिकल ट्रेनिंग ज्यादा कराई जाती है| उसमें आपको थ्योरी पर इतना ज्यादा जोर नहीं दिया जाता है| 
  • ITI से आपको पढ़ाई पूरी होने के बाद job करने में आसानी मिल जाती है| 
  • ITI कोर्स आठवीं से लेकर 12वीं तक के सभी बच्चे कर सकते हैं। 
  • ITI कोर्स के लिए किसी भी प्रकार की किताबी ज्ञान या इंग्लिश पर मजबूत पकड़ होनी जरूरी नहीं है| 
  • ITI में गवर्नमेंट कॉलेज में आपको कोई भी फीस नहीं देनी पड़ती है| 
  • ITI करने के बाद आपको Polytechnic में डायरेक्ट second year में admission मिल जाती है। 
  • ITI का कोर्स 6 महीने से लेकर 2 साल तक का होता है| 
  • ITI कोर्स को महिलाएं भी कर सकती हैं| इसलिए ITI में महिलाओं के लिए कुछ खास ट्रेड भी शामिल किए गए हैं। 
  • ITI का कोर्स भारत के सभी छोटे और बड़े शहर में मौजूद है।

ITI की Course Duration कितनी होती है?

ITI कोर्स की Duration आपके चुने हुए फील्ड पर निर्भर करती है कि आपकी फील्ड या यह कह सकते कि आपने ITI की कौन सी subject को चुना है और उसके ऊपर ही ITI कोर्स की Duration निर्भर करती है| यह Duration 6 महीने से लेकर 2 साल तक हो सकती है| 

आईटीआई के लिए फीस?

अगर आप Entrance Exam पास कर लेते हैं तो आपको बड़ी ही आसानी से किसी भी Government College में admission मिल जाती है और गवर्नमेंट कॉलेज में ITI की कोई भी फीस नहीं होती है अगर आप वही किसी Private College से ITI करते हैं तो आपको उस कॉलेज के अनुसार फीस देनी होती है।

ITI के लिए कितनी पढ़ाई चाहिए?

ITI में एडमिशन लेने के लिए आपके पास आठवीं या दसवीं का सर्टिफिकेट होना जरूरी है| इसके अलावा आप किसी trade में एडमिशन लेना चाहते हैं यह उस पर भी काफी हद तक निर्भर करता है।

ITI करने के बाद कौन सा Career चुनें?

सबसे पहले तो आपकी आईटीआई की फील्ड के ऊपर निर्भर करता है कि आपने किस फील्ड में अपनी पढ़ाई पूरी करी है| उसके अनुसार ही आप अपने लिए Job ढूंढ सकते हैं| ITI करने के बाद आप technical और non-technical sector में काम कर सकते हैं| यह आपकी expertise पर निर्भर करता है| इसके अलावा ITI students के पास और भी बहुत सारे विकल्प होते हैं जैसे कि वह Government Jobs कर सकते हैं Private Jobs कर सकते हैं या higher studies का विकल्प भी चुन सकते हैं अगर आप आगे और भी पढ़ाई करना चाहते हैं| अगर आपके मन में salary, posting से संबंधित सवाल है कि आप की salary कितनी होगी आपको कहां posting मिलेगी यह सब कुछ आपकी जॉब के ऊपर निर्भर करता है| 

लड़कियों के लिए आईटीआई कोर्स

जैसे कि आप सब लोग भी जानते ही है कि अब समय काफी बदल चुका है और आजकल तो छोटे से छोटे गांव की लड़की भी किसी ना किसी संस्था या कंपनी में job कर रही है| अगर आप भी एक लड़की है और आप भी job करना चाहते हैं तो उसके लिए आप ITI का कोर्स कर सकते हैं| लड़कियों के लिए कुछ खास trade  ITI में शामिल करी गई हैं| अगर आप चाहे तो उनमें से भी कोई भी trade चुन सकते हैं जैसे कि:-

  • Swing & Embroidery
  • information science
  • Basic Cosmetology
  • Hair and Skin Care
  • Fashion Design
  • Front office assistant
  • library
  • Computer operator
  • Programming assistant
  • computer aided embroidery and designing
  • Health Sanitary inspector
  • Stenographer Hindi/English
  • Fashion Technology
  • Dress making
  • Photographer
  • Food production

आईटीआई के बाद नौकरी के अवसर

अगर आप ने ITI करी है तो ITI करने के बाद आपको सरकारी और प्राइवेट दोनों ही तरह की नौकरी मिल सकती है| ITI करने के बाद आप किसी कंपनी में नौकरी कर सकते हैं या फिर रेलवे, बिजली घर या किसी फैक्ट्री में भी नौकरी कर सकते हैं क्योंकि ITI करने के बाद भारतीय रेल में भी बहुत सारी jobs निकलती है। आईटीआई कोर्स वैसे तो बना ही उद्योग क्षेत्र के लिए है| इसीलिए इस कोर्स में औद्योगिक क्षेत्र से संबंधित टेक्निकल पढ़ाई करवाई जाती है और अगर आप चाहे तो आईटीआई करने के बाद अपना खुद का भी कोई भी शुरू कर सकते हैं| 

आईटीआई करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है?

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि आईटीआई की स्टडी पूरी करने के बाद आपको कितनी salary मिलेगी तो इसका कोई भी सीधा जवाब नहीं है| हमारे कहने का मतलब यह है कि आपकी salary आपके काम और अनुभव पर निर्भर करती है कि आप किस फील्ड में जॉब कर रहे हैं क्योंकि Government Jobs और Private Jobs में सैलरी में काफी ज्यादा अंतर होता है| परंतु फिर भी अगर हम अनुमान लगाए तो आपको शुरुआत में 10000 से 15000 तक की सैलरी मिल सकती है और अगर वही आपके पास कोई और certification है तो आपको इससे थोड़ी ज्यादा सैलरी भी शुरुआत में मिल सकती है| 

Conclusion

दोस्तों अब आप जान चुके हैं कि आईटीआई क्या है आईटीआई कैसे करी जाती है आईटीआई के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए आईटीआई के लिए कौन से  डॉक्यूमेंट जरूरी है और लड़कियों के लिए आईटीआई कोर्स कौन कौन से है| उम्मीद करते हैं कि आपके लिए काफी लाभदायक सिद्ध होगी| अगर आपके हमारी इस जानकारी से संबंधित कोई डाउट हो या आपके मन में ITI से सम्बंदित किसी भी प्रकार कर प्र्शन हो तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं| 

 

ये भी पढ़े:

टेलीफोन का आविष्कार किसने किया?

दुनिया के नये सात अजूबे कौन से है?

सैनिटाइजर के फायदे और नुकसान क्या है?

भारत के 10 सबसे गरीब राज्य कौन से है?

 

FAQ (Frequently Asked Questions)

आईटीआई डिग्री है या डिप्लोमा?

यह आईटीआई कोर्स में अलग-अलग प्रकार के trade होते हैं| जिसे छात्र अपने रूचि के अनुसार चुन सकता है| ITI प्राइवेट और सरकारी दोनों कॉलेजों में मौजूद है| अब तो काफी यूनिवर्सिटी ITI कोर्स को करवाने लग गई है| बताना चाहेंगे कि आईटीआई एक डिप्लोमा है| स्टूडेंट्स डिप्लोमा में अपने-अपने इंटरेस्ट के अनुसार कोई भी trade चुनता है और जब उसका डिप्लोमा complete हो जाता है तो उसे उस ट्रेड का ITI  Diploma Certificate मिल जाता है| मान लीजिये अगर आप ने Computer Science में interest है और आप ने उसमें आईटीआई का कोर्स पूरा करा है तो आपको फाइनल एग्जाम देने के बाद आईटीआई का कंप्यूटर साइंस का डिप्लोमा मिल जाएगा| 

आईटीआई क्या पूरा नाम क्या है?

ITI का पूरा नाम Industrial Training Institute है|

आईटीआई में कितने पेपर होते हैं?

जैसा की हमने आपको अपने इस blog में पहले ही बता दिया है कि ITI का course 6 महीने से लेकर 2 साल तक के होते है| लेकिन आप अगर ITI करना चाहते है तो उसके लिए आपको Entrance Examदेना होता है जो कि साल में एक बार होता हैं| जिनमें इलेक्ट्रिकल थ्योरी, वर्कशॉप कैलकुलेशन एंड साइंस और एम्प्लॉयबिलिटी स्किल्स का पेपर कंप्यूटर के द्वारा ऑनलाइन होता है| इस Entrance Exam में सरे सवाल आपके कोर्स से संबंधित objective questions के रूप में पूछे जाते है| साथ ही आपका engineering drawing का एक ऑफलाइन पेपर भी होता है| इसके आलावा आपके practical exam प्रैक्टिकल एग्जाम भी होते है|

1 thought on “ITI kya hai, आईटीआई क्या होता है पूरी जानकारी”

Your Answer

Your email address will not be published.

Scroll to Top