एमबीए का फुल फॉर्म क्या है – Full Form of MBA in Hindi

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि MBA का फुल फॉर्म क्या है? What is the full form of MBA? पहले तो यह एक मास्टर डीग्री है| इस डीग्री को ग्रेजुएशन के बाद किया जाता है| वैसे तो इसे कोई भी छात्र ग्रेजुएशन के बाद MBA में भाग ले सकता है| आजकल MBA की बहुत डिमांड है| बहुत से छात्र ग्रेजुएशन को पूरा करने के बाद MBA करना पसंद करते है क्योंकि इस डीग्री को पूर्ण करने के बाद आप किसी भी सरकारी ओर प्राइवेट नोकरी को आसानी से हासिल कर सकते है|

यह business related डीग्री है| यही कारण है कि आज के समय बहुत से छात्र इसमें भाग लेना पसंद करते है| छात्र को इसमें भाग लेने क लिए ग्रेजुएशन में कम से कम 50% या उससे ज्यादा अंक प्राप्त किए हो| ज्यादातर इसमें भाग लेने के लिए छात्र को entrance exam देना होगा अगर वह पास हो जाता है तो उसको आसानी से admission मिल जाती है| जरूरी नही है कि केवल BBA की ली गई डीग्री वाला छात्र ही MBA मे admission ले सकते है इसमें admission लेने के लिए किसी भी डीग्री BA, BCA, BSC, B|COM, BBA से ग्रेजुएट है तो आप MBA मे admission ले सकते है|

एमबीए का फुल फॉर्म क्या है? (MBA Ka Full Form Hindi)

MBA का फुल फॉर्म “Master Of Business Administration” है ओर  हिंदी मे “मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन” है ओर इसका हिंदी मे अनुवाद “व्यवसाय प्रबंध में स्नातकोत्तर” है| फुल फॉर्म से आपको पता लग गया होगा कि यह business डिग्री है| इससे आपको business करने में बहुत आसानी मिलेगी|

MBA का इतिहास

अमेरिका पहला देश है जिसने इसकी शुरुआत 1908 मे की थी| MBA को सबसे पेश करने वाला पहला “हार्वर्ड बिजनेस स्कूल” है| इसकी शुरुआत अमेरिका के बिजनेस स्कूल मे हुई थी जिसमे 47 स्पेशल ओर 33 रेगुलर छात्र शामिल थे ओर यह committee के मार्गदर्शन मे ली गई पहली कक्षा थी| ओर आज के समय MBA बहुत ही डिमांड मे है| ओर आज के समय बहुत छात्र है जो ग्रेजुएशन के बाद इसमें MBA मे भाग ले रहे है| ओर बड़ी बड़ी कंपनी मे जॉब कर रहे है|

भारत मे MBA की शुरुआत 1949 मे हुई थी| पर इस डीग्री को देने वाला पहला संस्थान कोलकाता मे है| पहला महाविद्यालय “Indian Institute of Social Welfare & Business Management (IISWBM), Kolkata” है| जिसकी स्थापना 1953 मे हुई थी| इसके बाद यह भारत मे बहुत लोकप्रिय डीग्री का दर्जा हासिल कर लिया है|

भारत में MBA की शुरुआत

  • Xavier’s Labour Relations Institute, Jamshedpur1949
  • Indian Institute of Social Welfare & Business Management (IISWBM), Kolkata 1953
  • Faculty of Management Studies, New Delhi 1954
  • Indian Institute of Management (IIM-C), Kolkata 1961
  • Indian Institute of Management (IIM-A), Ahmadabad 1961
  • National Institute of Industrial Engineering (NITIE), Mumbai 1963
  • Indian Institute of Foreign Trade (IIFT) 1963
  • Jamnalal Bajaj Institute of Management Studies (JJBIMS), Mumbai 1965
  • Christ University of Management (CUIM), Bengaluru 1969
  • Institute of Marketing and Management (IIMM),New Delhi 1969

यह भारत के कॉलेज है जहा MBA की शुरुआत हुई थी|

MBA कितने साल का कोर्स होता है?

MBA की पूरी पढाई दो साल का कोर्स है| इसमें चार सेमेस्टर होते है ओर एक सेमेस्टर का टाइम छे माह का होता है| यह डीग्री ग्रेजुएशन के बाद किया जाने वाला कोर्स है| ओर इससे दो साल मे पूरा करना जरूरी होता है तभी आप अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन की डीग्री को पूरे टाइम पे प्रापत कर सकते है|

MBA के लिए शैक्षिक योग्यता

वैसे तो माना जाता है कि BBA ग्रेजुएशन के बाद MBA करना बहुत लाभदायक है क्योकि MBA में ज्यातातर subject BBA के जैसे है| BBA की पूरी ग्रेजुएशन business related है| ओर MBA पोस्ट ग्रेजुएशन डीग्री है| पर MBA मे किसी भी डीग्री हासिल की हो जैसेकि BCA, B|COM, BBA ओर B|SC वाला छात्र MBA मे परवेश ले सकता है| MBA मे admission लेने के लिए ग्रेजुएशन मे कम से कम 50% से ज्यादा अंक प्रापत किये हो तो आप किसी भी कॉलेज मे आसानी से परवेश ले सकते है|

MBA में परवेश लेने के लिए आज के समय CAT, GMAT, XAT आदि की परीक्षा देने के बाद आप किसी अच्छे कॉलेज मे admission ले सकते है| यदि आपका entrance exam पास नही होता तो आप फिर भी admission ले सकते है क्योकि बहुत से ऐसे कॉलेज है जहा entrance exam के बिना भी admission मिल जाता है| MBA को पूर्ण करने के बाद आप अच्छी कंपनियो मे नोकरी पा सकते है| MBA डीग्री की मदद से आप खुद का business भी शुरू कर सकते है| अगर आप किसी प्राइवेट जॉब भी करते है तो आपको MBA डिग्री की वजह से बहुत अच्छे अच्छे पैकेज मिल जाता है|

MBA कोर्स की अवधि

MBA कोर्स 2 साल का होता है| ओर इन दो साल के कोर्स मे चार समेस्टर होते है ओर जब आप यह चार समेस्टर पास कर लेते है तो आप अपनी MBA को पूर्ण कर लेते है| परन्तु आपकी admission तब हो सकती है अगर आपके पास आपकी ग्रेजुएशन डीग्री हो| MBA को दो साल मे पूरा करना होता है अगर आप इससे दो साल के पीरियड मे पूरा नही करते तो इससे आपको बहुत कठिनाई आती है| दो साल मे पूर्ण ना होने पर आपको आगे जा कर जॉब मिलने मे कठिनाई होती है जिससे आपके उपर बुरा परभाव पड़ता है| MBA का पूरा कोर्स business के उपर है इसमे आपको टीम वर्क, बातचीत ओर आपकी स्किल improve होती है जिससे आपको अपना business या जॉब मे बहुत लाभ्दायिक होता है|

MBA के प्रकार

यह तो आप जानते ही है कि MBA दो साल का कोर्स है परन्तु भारत मे यह छे पारकर की है| छात्र अपनी इच्चा के अनुसार MBA का चयन कर सकते है| वैसे तो आप किसी भी पारकर की MBA का चयन करते है तो सभी मे आपको business related पढाई करवाई जाएगी| परन्तु सभी मे थोडा थोडा सिलेबस का अंतर जरुर होगा| पर सभी सब्जेक्ट मे आपको मैनेजमेंट, टीम वर्क आदि के बारे मे पूरा करवाया जायेगा|

एमबीए कोर्सेज के नाम इस प्रकार से हैं –

  • Full-time MBA
  • Distance MBA
  • One-year Full time MBA
  • One-year Part time MBA(Executive MBA)
  • Online MBA
  • MBA integrated course

Full Time MBA

यह कोर्से दो साल है| फुल टाइम MBA, यह एक रेगुलर कोर्से है| ओर यह ज्यादातर कॉलेज मे करने वाला है| इसमें छात्र को कॉलेज मे जाकर पढाई करनी होती है| ओर आपको सभी exam पास करना अति जरूरी होता है| इसमें आपको MBA के सभी सब्जेक्ट के बारे मे पूरी जानकारी दी जाएगी ओर आपको MBA पूरे दो साल मे पास करना होगा| MBA के चार समेस्टर होते है ओर एक समेस्टर की अविधि छे माह की होती है|

Distance MBA

यह कौर्स उन छात्रों के लिए है जो रोज़ कॉलेज नही जा सकते उसने लिए Distance MBA है| यह भी दो साल का कौर्स है| ओर इस दोरान MBA करते समय आपके exam होते तो कॉलेज मे है पर आपको रोज़ क्लास अटेंड करने की जरुर नही होती| जो छात्र काम करने के साथ साथ पढाई करने मे दिलचस्प है उनके लिए इस पारकर की MBA का आयोजित किया गया था की हर छात्र पढाई के साथ साथ काम भी कर पाये|

One-Year Full time MBA

यह कोर्स एक साल का होता है इसमें हर छात्र के पास एक साल मे MBA पूर्ण करना होता है| यह उन छात्रों के लिए है जिनके पास business related कोई work experience हो ओर वह भी कुछ लम्बे समय का होना जरूरी है| इससे आपको यह फ़ायदा होगा की जो दो साल का कोर्स है आपके लिए वह कोर्स एक साल का रह जाता है|

One-Year Part Time MBA(Executive MBA)

यह कोर्स एक साल का होता है| यह उन छात्रों के लिए है जिनके पास business related कोई work experience हो ओर वह भी कुछ लम्बे समय का होना जरूरी है| इस पारकर की MBA ज्यादातर छुट्टियों के दिनों मे या सप्ताह के अंत मे क्लास होती है| इसमें मे सभी business related subject होते है ओर सभी subject को एक साल के अंदर पास करना जरूरी होता है| यह कोर्स 12 से 15 महीने का कोर्स है| यह उनके लिए है जो छात्र पढाई मे ज्यादा दिलचस्पी रखते है|

Online MBA

ऑनलाइन से आप अंदाजा लगा सकते है कि इससे MBA का पूरा कोर्स घर पर बैठ कर होता है| इसमें आपको कॉलेज जाना नही पड़ता सभी subject की क्लास ऑनलाइन होती है ओर exam भी ऑनलाइन होते है| इसको करने के लिए बहुत सी ऑनलाइन वेबसाईट है जिससे आप अपनी MBA को पूर्ण कर सकते है| इसमें आपको recoded video से ओर ऑनलाइन classes लगा कर आप अपनी MBA पूर्ण कर सकते है| अलग अलग वेब साइट्स पर अलग अलग कौर्स का चयन कर सकते है ओर ऑनलाइन इसका टाइम पीरियड एक से चार साल का है|

MBA Integrated Course

यह पांच साल का कोर्स है| यह उन छात्रों के लिए जो MBA को 12वी कक्षा के बाद करना चाहते है| इसका पांच साल का समय इसलिए है क्योकि इसमें BBA ओर MBA के सब्जेक्ट होते है| सभी सब्जेक्ट के जानकारी पूरी डिटेल मे देने के लिए इसको पांच साल का किया गया है| इसमें subject भी ज्यादा होते है| यह भी सेमेस्टर वाईस होता है ओर सभी सेमेस्टर को पास करके आप अपनी MBA को पूर्ण करके डीग्री पा सकते है|

MBA कोर्स में Admission कैसे लें?

MBA मे admission लेने के लिए पहले तो आपको किसी भी तरह की ग्रेजुएशन की डीग्री का होना बहुत जरूरी है| अगर आप BBA के बाद MBA कर रहे है तो आपको MBA करने मे आसानी होगी ओर आप सरलता से आप अपनी MBA को पूर्ण करके आप अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन की डीग्री पा लेंगे| यह दो साल का कोर्स है| अगर आप किसी अच्छे कॉलेज मे admission लेना चाहते है तो आपको entrance exam देना होता है जिसको clear करने के बाद किसी भी अच्छे से अच्छे कॉलेज से अपनी MBA की पोस्ट ग्रेजुएशन की डीग्री को प्रापत कर पायेगे|

यह आपके पास way है जिससे आप आसानी से admission ले सकते है|

  • Entrance Exam
  • Written Ability Test (WAT)
  • Group Discussion (GD)
  • Personal Interview (PI)

वैसे तो यह चार चरण है पर कुछ कॉलेज ऐसे है जहा केवल तीन ही होते है| जैसे – Entrance Exam, Written Ability Test (WAT) और Personal Interview(PI)| पर कुछ कॉलेज ऐसे होते है जहाँ केवल दो पारकर के exam होते है| ओर कुछ कॉलेज ऐसे है जहा सिर्फ एक ही exam होता है जिसको पास करके के बाद आप कॉलेज मे परवेश ले सकते है| अगर आपके पास business related, work experience है तो आपको ओर भी आसानी होती है एडमिशन लेने के लिए|

Entrance Exam (प्रवेश परीक्षा)

ज्यादातर भारत के कॉलेज ऐसे है जहा केवल एक ही exam होता है जिसको entrance exam कहते है जिसके पास करने के बाद आप किसी भी अच्छे से अच्छे कॉलेज मे अपना परवेश ले सखते है| पर अलग अलग कॉलेज मे अलग अलग पारकर के exam है जैसे कि :

  • CAT
  • IBSAT
  • MAT
  • XAT
  • ATMA
  • NMAT
  • CMAT
  • IIFT 
  • GMAT

यह सभी entrance exam के exam है जिसको पास करने के बाद आप MBA मे परवेश ले सकते है| भारत के कुछ ऐसे कॉलेज है जहा केवल इनमे से कुछ ही exam को मान्यता दी गई है| इसमें से सबसे अधिक GMAT ऐसा exam है जो छात्रों देना पसंद करते है ओर यह exam पोपुलर भी बहुत है| इसकी यह वजह है कि इसका चयन ज्यादा होता है|

Written Ability Test (WAT)

यह ऐसा exam है जहा आपको किसी टॉपिक के बारे मे कहा जाता है ओर आपको इसमें अपने सही लिखने का व्याकरण ओर सही शब्दों का चयन करके यह exam दिया जाता है| यह exam 15-20 मिनट का exam होता है इस exam मे आपकी नॉलेज का टेस्ट होता है| इस exam को देने के लिएएक शीट ओर पेन दिया जाता है| उस पर आपको यह टेस्ट देना होता जिसकी पास करने के बाद आपको MBA मे परवेश मिलता है|

Group Discussion (GD)

नाम से ही पत्ता चलता है कि यह exam किसी ग्रुप मे दिया जाने वाला exam है| इसमें एक या एक के उपर ग्रुप होते है| जिसमे आपको एक टॉपिक दिया जाता है| आपको उसके बारे मे पूरा बताना होता है| इसमें हर छात्र अपना दृष्टिकोण सहमने रखना होता है|

Personal Interview (PI)

इसमें छात्र को इंटरव्यू होता है जो किसी कॉलेज या किसी यूनिवर्सिटी की मेंबर के ग्रुप से लिया जाता है| जहा उनसे पढाई ओर उनकी नॉलेज का exam लिया जाता है ओर उसके बेस के अनुसार उनका चयन होता है|

MBA कोर्स की फीस?

वैसे तो कोर्स की फीस अलग अलग कॉलेज मे अलग अलग फीस होती है| प्राइवेट कॉलेज मे फीस ज्यादा होती है ओर सरकारी कॉलेज की फीस प्राइवेट कॉलेज से बहुत कम होती है| सरकारी कॉलेज ओर प्राइवेट कॉलेज की फीस मे जमीन असमान का फर्क होता है| Reserve Category(SC/ST) अगर आप इस category मैं है तो आपकी फीस ओर भी कम होती है| अगर आप सरकारी कॉलेज से MBA करना चाहते है तो वहा की फीस 1 से 2 लाख होती है ओर वही अगर आप प्राइवेट कॉलेज से MBA करना चाहते है तो वहा की फीस 5 से 20 लाख भी हो सकती है| अगर कोई छात्र किसी अच्छे से अच्छे कॉलेज मे admission लेना चाहता है तो उसकी फीस 25 लाख की हो सकती है| यह पूरी फीस दो साल की बताई जा रही है| आप जिस कॉलेज से MBA करना चाहते है आप उस कॉलेज की वेबसाईट से भी उस बारे मे पूरी जानकारी हांसिल कर सकते है|

भारत के Top MBA कॉलेज

वैसे तो भारत मे बहुत अनेको कॉलेज है| जहा पर आप MBA की पोस्ट ग्रेजुएशन की डीग्री को हांसिल कर सकते है|

भारत के टॉप कॉलेज :

  • Indian Institute Of Management               Ahmadabad
  • Symbiosis Institute Of Business Management Pune
  • Indian Institute Of Management               Tiruchirapplli
  • Indian Institute Of Management               Bangalore
  • S P Jain Institute Of Management & Research, Mumbai
  • Indian Institute Of Management               Calcutta
  • Shailesh J Mehta School Of Management        Mumbai
  • Indian Institute Of Management               Lucknow
  • Indian Institute Of Management               Kashipur
  • Indian Institute Of Management               Indore
  • Indian Institute Of Foreign Trade               Delhi
  • Xlri Xavier School Of Management               Jamshedpur
  • Faculty Of Management Studies (Fms)        Delhi
  • Indian Institute Of Management               Kozhikode
  • Management Development Institute               Gurgaon
  • Narsee Monjee Institute Of Management Studies Mumbai
  • International Management Institute               Delhi
  • Indian Institute Of Management               Shillong
  • Indian Institute Of Management               Udaipur
  • National Institute Of Industrial Engineering Mumbai
  • Indian Institute Of Management               Raipur
  • Institute Of Management Technology               Ghaziabad
  • Xavier Institute Of Management               Bhubneshwar
  • Indian Institute Of Management               Ranchi

यह भारत के पर्मुख ओर बेहतरीन कॉलेज है| इनमे से आप किसी भी कॉलेज से MBA कर सकते है|

दुनिया के Top MBA कॉलेज

उपर आपको भारत के टॉप कॉलेज के बारे मे बताया गया था| दुनियाभर मे बहुत ऐसे कॉलेज है जो एक से एक बहतरीन कॉलेज है|

विश्व के टॉप कॉलेज :

  • Stanford Business School, US
  • University of Chicago Booth School of Business, US
  • The Wharton School at the University of Pennsylvania
  • MIT Sloan School of Management, US
  • London Business School, UK
  • Harvard Graduate School of Business, US
  • HEC Paris
  • IE Business School, Spain
  • INSEAD, Paris
  • Columbia Business School, US

MBA में विशेषज्ञता

MBA दो साल का कोर्स है| इसके पहले साल के subject ओर दुसरे साल के subject मे अंतर है| इसके पहले साल के जो subject है वह सभी छात्र के लिए एक जैसे है ओर जो दुसरे साल के subject है वह छात्र अपनी इच्छा के अनुसार ले सकता है| MBA ज्यादा डिमांड डीग्री होने की वजह से इसमें यह बदलाव लाया गया| छात्र अनुसार subject पढ़ाए जाते हैं

  • MBA in Finance
  • MBA in marketing
  • MBA in human resource
  • MBA in digital marketing
  • MBA in International Business
  • MBA in Information technology
  • MBA in business analytics

Career in MBA

MBA एक मात्र ऐसी डीग्री है जिसमे करियर की कोई कमी नही है| MBA करने के बाद आपके सहमने बहुत सि ऑप्शन सहमने आती है| आप जिस फील्ड के अनुसार MBA को पूर्ण करते है आपको उसी फील्ड के अनुसार जॉब मिलती है| या उसके लेवल की कोई भी जॉब आप चुन सकते है|

MBA के बाद नौकरी

MBA को पूर्ण करने के बाद आपके पास बहुत opportunity आपके सहमने आती है| अगर आप चाहे तो आगे पढाई भी कर सकते है अगर आपका जॉब करने की इच्छा रखते है तो job की बहुत सि option मिलती है| जैसे कि :-

  • Banking & Finance
  • Investment Banking
  • Management Consulting
  • Entrepreneurship
  • Data Analytics
  • Private Equity

Banking & Finance

MBA करने के बाद अगर आप बैंक की जॉब मे interest रखते है तो आपको बैंक की जॉब बहुत आसानी से मिल सकती है| इनमें सिक्योरिटी और इन्वेस्टमेंट एनालिसिस और पोर्टफोलियो मैनेजमेंट शामिल होता है। यह नौकरियां बैंकों, सिक्योरिटी फर्म्स, बीमा कंपनियों और विभिन्न वित्तीय संगठनों में होती हैं। बैंक में उपलब्ध नौकरियों के अवसर में कमर्शियल बैंकिंग, लायबिलिटीज प्रोडक्ट मैनेजमेंट, कार्ड्स मैनेजमेंट, ट्रांजेक्शन बैंकिंग, कॉरपोरेट बैंकिंग, कंप्लायंस, होलसेल रिस्क, क्रेडिट रिस्क, रिलेशनशिप मैनेजमेंट और ट्रेजरी शामिल है। आईसीआईसीआई बैंक, यस बैंक, कोटक बैंक, एक्सिस बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, एचडीएफसी बैंक और आरबीएल इन रोल्स के लिए एमबीए ग्रैजुएट्स की भर्ती करता है।

इनफॉर्मेशन सिस्टम मैनेजमेंट

इस तरह के कैंडिडेट्स संगठन की ग्रोथ के लिए ताजा और up-to-date टेक्नोलॉजी की पहचान करते हैं। वह फाइनैंशल और मैनेजेरियल विभागों में काम करते हैं। किसी टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल पर खर्च से जुड़ा विश्लेषण वे मुहैया कराते हैं।  

इन्वेस्टमेंट बैंकिंग

इस पोस्ट पर काफी डिमांड रहती है। इस रोल के लिए हायर करने वाली कंपनियों में एसबीआई कैपिटल, मोतीलाल ओसवाल और बैंक ऑफ अमेरिका कंटिन्यूअम अहम है। इसमें एक तरह से मध्यस्थ की भूमिका निभानी होती है। आपको उन संगठनों से निवेशकों को जोड़ना होता है, जिनको पैसे की जरूरत होती है।

मैनेजमेंट कंसल्टिंग

अगर आपमें समस्याओं को हल करने की योग्यता है तो आपके लिए यह अच्छी जॉब है। एक मैनेजमेंट कंसलटेंट का काम संगठन से जुड़ी समस्याओं का हल करना होता है। समस्याओं के समाधान के लिए उनको ताजा आइडिया और नया तरीका अपनाना पड़ता है। इन रोल के लिए कॉग्निजेंट बिजनेस कंसलटिंग, बेन (बीसीसी), केपीएमजी, पीडब्ल्यूसी, इंफोसिस मैनेजमेंट कंसलटिंग, माइकल पेज,डेलायट, पीपुलस्ट्रांग,कार्टेसियन कंसलटिंग और कई कंपनियां हायरिंग करती हैं।

Data Analytics

डिजिटल क्रांति के साथ डाटा की अहमियत बढ़ गई है। बैंकिंग हो या फिर रिटेल, ई-कॉमर्स या मैनेजमेंट हो, हर फील्ड में डाटा का दखल बढ़ गया है। इसलिए ज्यादातर बिजनस स्कूलों ने अब अपने एमबीए प्रोग्राम में डाटा एनालिटिक्स के अहम पार्ट के तौर पर ऑफर करना शुरू कर दिया है। फ्रैक्टल एनालिटिक्स, लैटेंटव्यू एनालिटिक्स जैसी कंपनियां एमबीए ग्रैजुएट्स को डाटा साइंटिस्ट या डाटा एनालिस्ट के पद पर हायर करती हैं।

Private Equity

इन्वेस्टमेंट बैंकिंग की तरह ही निवेश का आपका ज्ञान प्राइवेट इक्विट जॉब प्रोफाइल में भी काम आता है। इसके लिए भर्ती करने वाली कंपनियों में रेलिगेयर, मैगमा फिनकॉर्प, डीई शॉ, इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस, कोटक लाइफ, एंजल ब्रोकिंग, आईसीआईसीआई प्रुडेंल ऐसेट मैनेजमेंट, बजाज फिनसर्व, कोटक वेल्थ मैनेजमेंट, जेपीमॉर्गन चेज, ऐक्सिस सिक्योरिटीज, फिडेलिटी इन्वेस्टमेंट, फुलेरटान आदि शामिल हैं।

MBA करने के बाद सैलरी कितनी होगी?

आपकी सैलरी कितनी होगी यह आपकी पोस्ट पर निर्भर करता है। MBA करने के बाद, अक्सर देखा जाता है शुरुआती दौर में, कैंपस प्लेसमेंट 1,00,000 से 2,50,000 लाख प्रति माह के बीच होती है। एक फ्रेशर के लिए शुरू में अच्छा सैलरी पैकेज मिलना थोड़ा मुश्किल होता है परंतु जैसे जैसे एक्सपीरियंस बढता जायेगा वैसे ही सैलरी में बढो़तरी होनी शुरू हो जाएगी। यदि आप अंतरराष्ट्रीय  कंपनी में जाते हो तो सैलरी पैकेज इससे भी अधिक हो सकता है।

Conclusion

हम उम्मीद करते है की हमारा यह पोस्ट MBA Ka Full Form Kya Hai हम कैसे ओर कहा से कर सकते है ओर इसके परसिद्ध कालज कहा कहा है| रोजगार मै इसका क्या महत्त है| हम उम्मीद करते है की आपको इसके बारे मै पूरी जानकारी पढ़ कर बहुत अच्छा लगा होगा और यह जानकारी भी आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगी| अगर आपको इस जानकारी से सम्बंधित कोई डाउट है तो आप हमे नीचे कमेंट करके सुझाव भी दे सकते है|

ये भी पढ़े:

BA का फुल फॉर्म क्या है?

GST का फुल फॉर्म क्या है?

INDIA का फुल फॉर्म क्या है?

DNA का फुल फॉर्म क्या है?

 

FAQ (Frequently Asked Questions)

MBA को हिंदी में क्या कहते हैं?

MBA का हिंदी अनुवाद “व्यवसाय प्रबंध में स्नातकोत्तर” है|

MBA Course अवधि (Duration) कितनी होती है?

MBA कोर्स की अवधि दो साल की है|

MBA के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है?

MBA करने के लिए आपके पास कोई भी ग्रेजुएशन डीग्री होना जरूरी है|

MBA करने में कितना पैसा लगता है?

सरकारी कॉलेज मे एक से दो लाख ओर प्राइवेट कॉलेज मे पांच से बीस लाख तक हो सकती है|

Full Form of MBA in Hindi?

Full Form of MBA : Master Of Business Administration

एमबीए कितने साल का होता है?

एमबीए 2 साल का होता है| पहले साल में छात्र को मैनेजमेंट के सभी विषयो के बारे में पढ़ाया जाता है| फिर अगले साल में छात्र को मैनेजमेंट के सारे Subjects में बेहतर बनाने के साथ किसी एक Subject का expert बनाया जाता है।

एमबीए करने में कितना पैसा लगता है?

एमबीए करने में 10 लाख से लेकर 25 लाख रुपये तक का खर्चा आ जाता है| अगर आप entrance exam पास कर लेते है तो आपको किसी Government कॉलेज में admission मिल जाती है| Government कॉलेज में फीस Private college के मुकाबले काफी कम होती है| इसलिए आपको MBA करने से पहले entrance exam के लिए तैयारी करनी चाहिए|

Your Answer

Your email address will not be published.

Scroll to Top