चुटकियों में mAadhaar App से Paperless Offline eKYC कैसे करें?

Paperless Offline eKYC – आधार कार्ड हर एक आधार धारक के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज है, क्योंकि आधार कार्ड का इस्तेमाल हर एक अधर धारक की पहचान के तौर पर किया जाता है| जिसकी वजह से आधार धारक सरकारी योजना का लाभ उठाने, पेंशन योजना, बैंक के काम और अन्य कई कामों के लिए अपने आधार कार्ड का इस्तेमाल करता है| इस बात को ध्यान में रखते हुए UIDAI ने mAadhaar App में Paperless Offline eKYC के फीचर को जोड़ा है| जिसका इस्तेमाल करके आधार धारक अपने आधार कार्ड की ई केवाईसी बिना फिजिकल उपस्थित हुए mAadhaar एप से ही कर सकता है| 

mAadhaar App Paperless Offline eKYC फीचर क्या है?

पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी फीचर आपकी पहचान की वेरिफिकेशन के लिए बनाया गया एक फंक्शन है| इस फीचर का इस्तेमाल करने के बाद आप ऑफलाइन वेरिफिकेशन के लिए अपने डॉक्यूमेंट को एक जगह ही इकट्ठे कर सकते हैं और यह फीचर बिल्कुल सुरक्षित है| इस फीचर का इस्तेमाल करके आप अपने खुद के दस्तावेज को बना सकते हैं और ऑफलाइन वेरिफिकेशन के लिए इनका इस्तेमाल भी कर सकते हैं| केवाईसी का इस्तेमाल करने के लिए आपको पहले UIDAI की वेबसाइट पर जाकर डिजिटल हस्ताक्षरित ऑफलाइन एक्सएमएल तैयार करना होगा|

mAadhaar App से Paperless Offline eKYC कैसे करें?

स्टेप 1: सबसे पहले आप ने अपने मोबाइल फोन में mAadhaar App को डाउनलोड करके इंस्टॉल करना है| 

स्टेप 2: फिर आप ने App में Login करना है| 

स्टेप 3: लोगिन करने के लिए आप ने अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड भरना है| 

स्टेप 4: फिर आप ने Send OTP के बटन पर क्लिक करना है| 

स्टेप 5: फिर आपके आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा| 

स्टेप 6: फिर आप ने ओटीपी को App में डालना और Login बटन पर क्लिक करना है| 

स्टेप 7: फिर आप ने mAadhaar App में Paperless Offline eKYC के विकल्प पर क्लिक करना है| 

स्टेप 8: फिर आप ने अपना आधार नंबर भरना है| 

स्टेप 9: फिर आप ने 4 अंको का Share Code भरना है| शेयर कोड आप अपनी मर्जी से रख सकते हैं और इस नंबर को आप ने याद भी रखना है| 

स्टेप 10: फिर आप ने कैप्चा कोड भरना है और Request OTP के बटन पर क्लिक करना है।

स्टेप 11: फिर आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा, ओटीपी को App में सबमिट करना है| 

स्टेप 12: फिर आप जिस ऑर्गेनाइजेशन या जिस व्यक्ति के साथ डॉक्यूमेंट शेयर करना चाहते हैं, शेयर बटन पर क्लिक करके उसके साथ शेयर कर सकते हैं| 

स्टेप 13: अगर आप सभी डॉक्यूमेंट को शेयर करना है तो आप ने डॉक्यूमेंट की ZIP File बना कर रखनी है, अगर स्टेप 14: एक सिंगल डॉक्यूमेंट को शेयर करना है तो सिंगल डॉक्यूमेंट को शेयर कर सकते हैं।

स्टेप 15: ऑफलाइन वेरिफिकेशन के लिए आप ने डॉक्यूमेंट के साथ अपना शेयर कोड और रजिस्टर मोबाइल नंबर भी send करना है।

ऑफलाइन वेरिफिकेशन के लिए ई केवाईसी को किसी के साथ शेयर कैसे करें?

ऑफलाइन वेरिफिकेशन के लिए ई केवाईसी को किसी के साथ शेयर करने के लिए आप ने mAadhaar App में जनरेट की हुई ज़िप फाइल, शेयर कोड और रजिस्टर मोबाइल नंबर को आधार केंद्र के साथ शेयर करना है| फिर आपकी ई केवाईसी शेयर हो जाएगी|

Also Read: जाने आधार कार्ड में फ्री डॉक्यूमेंट अपडेट करने की आखिरी तारीख

आधार ई केवाईसी क्यों करवानी जरुरी है?

ई केवाईसी का मतलब Know Your Customer है, यानी कि अपने आधार धारक के बारे में जानकारी प्राप्त करना| जब भी आप आधार कार्ड से कोई बैंक अकाउंट ओपन करवाते हैं, किसी योजना का लाभ उठाते हैं या सिम कार्ड खरीदने हैं तो आपको पूरी केवाईसी प्रोसेस से गुजरना पड़ता है और अपने दस्तावेज भी देने पड़ते हैं| अगर उन दस्तावेज का कोई दुरुपयोग करता है, तो जिसका आधार कार्ड होता है उस पर ही कार्रवाई की जाती है| 

इस बात को ध्यान में रखते हुए ही पेपरलेस ई केवाईसी प्रोसेस को शुरू किया गया है, ताकि आप बिना दस्तावेज दिए ऑफलाइन वेरिफिकेशन करवा सके| आप ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीके से आधार ईकेवाईसी कर सकते हैं| अगर आप ऑफलाइन तरीके से केवाईसी करवाते हैं तो आपको आधार केंद्र पर जाकर अपने दस्तावेज जमा करवाने होते हैं और आपको फिजिकल वहां पहुंचना भी होता है| अगर आप ऑनलाइन ईकेवाईसी करवाते हैं तो आप mAadhaar App से घर बैठे ही paperless ईकेवाईसी कर सकते हैं| 

पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी के फायदे

  • पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी का सबसे बड़ा फायदा है कि आपको कोई भी कागज़ी कार्रवाई करने की जरूरत नहीं होती| 
  • आपकी प्रक्रिया पूरी पारदर्शित होती है| 
  • आधार धारक को कहीं पर भी अपने दस्तावेज की फोटो कॉपी जमा करवाने की जरूरत नहीं होती| 
  • आधार कार्ड से होने वाले धोखाधड़ी की संभावना कम हो जाती है| 
  • जहां फिजिकल ई केवाईसी करने में 5-7 दिन का समय लगता है, वहां maadhaar app से ई केवाईसी करने में कुछ मिनट ही लगते हैं।

Also Read: घर बैठे करें ई आधार कार्ड डाउनलोड

Conclusion

उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी mAadhaar App से पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी कैसे करें? आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगी और पेपरलेस ई केवाईसी के फायदे को समझने के बाद आप भी जल्द से जल्द आधार कार्ड की ऑफलाइन ई केवाईसी जरूर करवा लेंगे| अगर आपको हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी लाभदायक लगी हो या फिर आप हमें कोई राय देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

FAQ (Frequently Asked Questions)

आधार कार्ड ऑफलाइन ई केवाईसी होने में कितना समय लगता है?

जब आप mAadhaar App से पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी करते हैं तो कुछ मिनटों के अंदर ही आपके आधार कार्ड की ऑफलाइन ई केवाईसी हो जाती है| 

आधार कार्ड शेयर कोड क्या है?

आधार कार्ड शेयर कोड 4 अंको का कोड होता है| जब आप पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी करते हैं, तब आपको 4 अंकों का शेयर कोड डालना होता है| यह शेयर कोड आप अपनी मर्जी से डाल सकते हैं और इस शेयर कोड को आप पासवर्ड भी कह सकते हैं| आपको अपने शेयर कोड को याद रखना है, क्योंकि पेपरलेस ई केवाईसी करते समय आपको आगे इसकी जरूरत पड़ती है।

पेपरलेस ऑफलाइन केवाईसी क्या है?

पेपरलेस ऑफलाइन केवाईसी में आपको अपने आधार कार्ड की फोटो कॉपी देने की जरूरत नहीं होती| आप mAadhaar ऐप से आधार कार्ड की ऑफलाइन केवाईसी करके एक्सेल फाइल को डाउनलोड कर सकते हैं और उस फाइल का इस्तेमाल कहीं भी कर सकते हैं| इस प्रक्रिया को पेपरलेस ऑफलाइन केवाईसी कहते हैं| 

मोबाइल से e-KYC कैसे करें?

मोबाइल से e-KYC करने के लिए आप ने अपने मोबाइल में mAadhaar ऐप को डाउनलोड करके इंस्टॉल करना है| फिर ऐप में लॉगिन करके पेपरलेस ऑफलाइन ई केवाईसी पर क्लिक करके अपना आधार नंबर और शेयर कोड भरना है| फिर आप ने आधार से लिंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी सेंड करना है|  फिर ओटीपी को वेबसाइट में भरने के बाद जिस डॉक्यूमेंट को शेयर करना चाहते हैं उसके सामने शेयर बटन पर क्लिक करके शेयर कर सकते हैं।