बल्ब का आविष्कार किसने किया?

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं कि बल्ब का आविष्कार किसने किया। यह बात तो हम जानते ही हैं कि रोशनी आने से पूरे संसार का नक्शा ही बदल गया है| हमें अंधेरे में काम करने में भी आसानी हो जाती है और साथ ही अंधेरे से डर भी नहीं लगता है| एक समय हुआ करता था जब बल्ब का अविष्कार नहीं हुआ था उस समय लोग मोमबत्तियां का इस्तेमाल किया करते थे| परंतु कई बार इन चीजों का इस्तेमाल सही ढंग से ना होने की वजह से उस समय दुर्घटनाएं भी हो जाती थी और मोमबत्ती जैसी चीजों को संभाल के रखने में भी आसानी नहीं हो रही थी। 

जब से बल्ब का आविष्कार हुआ है तब से सिर्फ घर ही नहीं घर के बाहर भी इसका इस्तेमाल होने लगा है तो दोस्तों आज किस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि बल्ब का आविष्कार किसने किया था? लाइट बल्ब का आविष्कार कब हुआ था? बल्ब का आविष्कार कैसे किया था? अगर आप भी इन सब के बारे में पूरी जानकारी लेना चाहते हैं तो हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

बल्ब क्या है?

बल्ब एक ऐसा उपकरण है जिसका इस्तेमाल रोशनी करने के लिए किया जाता है| यह लगभग एक गोलाकार का होता है जिसमें एक तार का इस्तेमाल किया जाता है| जब उस तार में करंट पहुंचता है तो वह तार गर्म हो जाती है और गर्म होने के बाद वह रोशनी प्रदान करती है।

Bulb के प्रकार कितने हैं ?

अगर आप मार्केट में पता करते हैं तो आपको मार्केट में बहुत तरह के बदलाव देखने को मिल जाएंगे लेकिन उनमें से हम कुछ Bulb आपके साथ शेयर करने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है।

  • Incandescent bulbs
  • Fluorescent lamps
  • Compact fluorescent lamps (CFL)
  • Light emitting diode (LED)
  • Halogen bulbs

बल्ब का आविष्कार कैसे हुआ था?

जैसे कि अब आप जान चुके हैं कि बल्ब का आविष्कार किसने किया और बल्ब का आविष्कार कब हुआ है तो अब हम आपको बताते हैं कि बल्ब का आविष्कार क्यों करना पड़ा था इसके पीछे वजह क्या थी। बिजली का इस्तेमाल करके सबसे पहले रोशनी पैदा करने का विचार इंग्लिश टाइमस्टैंप रीड एवरी के मन में आया था और इस बात को लगभग 200 साल से भी ज्यादा का समय हो गया है| उन्होंने दुनिया को बताया था कि तारों के जरिए बिजली paas करके रोशनी को पैदा किया जा सकता है| जब यह तारे गर्म हो जाती है तो यह रोशनी पैदा कर सकती हैं| परंतु उस समय समस्या यह आ रही थी कि उनके द्वारा तैयार किए गए उपकरण कुछ घंटे ही चल पाते थे| 

फिर Thomas Edison ने साल 1880 को carbon filament लाइट बल्ब का आविष्कार किया| जिसकी वजह से बल्ब का आविष्कार करने का पूरा श्रेय उनको जाता है। Thomas Edison ने ऐसी तरकीब निकाली जिस से कि thin carbon filament को बेहतर डिजाइन में इस्तेमाल किया जा सकता था| जिसमें उन्होंने बेहतर क्वालिटी के vacuum का इस्तेमाल किया जो आगे चलकर सफल साबित हुआ और इस तरह लाइट बल्ब scientific और commercial challenge को खत्म करने में भी सफल रहा और इस प्रकार बल्ब बनकर तैयार हो गया।

बल्ब कैसे काम करता है?

अभी तक हमने आपको बताया था कि बल्ब क्या होता है? अब हम आपको बताते हैं कि बल्ब असल में कैसे काम करता है? बल्ब कैसे रोशनी पैदा करता है?आपके घरों में अक्सर ही बल्ब लगे होते हैं जिसमें आप ने देखा होगा कि उसमें एक V Shape का तार दिखाई दे रहा होता है| उन दोनों तारों के बीच एक पतली सी तार दिखाई देती है| आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह पतली सी तार जब चमकती है तो रोशनी मिलती है| जब बल्ब में बिजली का प्रवाह करवाते हैं तो तारों की मदद से वह बिजली filament तक पहुंच जाता है और बल्ब चमकने लगता है। 

आज के समय में मार्केट में अलग-अलग तरह के आ गए हैं| जिसमें बिना filament के बल्ब भी है जो बिना फिलामेंट के रोशनी प्रदान करते हैं| आपके घरों में अक्सर ही सफेद रंग के होते हैं जिन्हें हम CFL बल्ब कहते हैं| इन बल्ब में filament नहीं होती है क्योंकि यह गैस के ऊपर काम करते हैं| इसके अलावा LED Light भी होते हैं जिसमें छोटे छोटे LED Light को एक साथ जोड़ कर अधिक रोशनी पैदा की जाती है।

क्या सच में Edison जी ने ही बल्ब का आविष्कार किया था?

अगर इस सवाल का हम जवाब ढूंढे तो इसका जवाब हा भी है और नहा भी है क्योंकि यह बात हम सभी जानते हैं कि किसी भी अविष्कार को करने में किसी एक व्यक्ति का हाथ नहीं होता है| उसको करने में काफी लोगों ने कोशिश करी होती है और कुछ इतिहासकारों का तो यह भी मानना है कि बल्ब का डिजाइन तैयार करने में Edison से पहले लगभग 20 लोगों ने कोशिश की थी। 

परंतु यह बात भी सच है कि लाइट बल्ब के अविष्कार से लेकर उसे कमर्शियल प्रोडक्शन तक लेकर जाने में सबसे बड़ा योगदान Thomas Alva Edison का ही है| वह एक वैज्ञानिक थे जिन्होंने पहला कमर्शियल practical बल्ब तैयार किया था। उनसे पहले तैयार किए गए Light bulb के डिजाइन में काफी ज्यादा गलतियां थी जिसकी वजह से वह सफल नहीं हो सके थे l

बल्ब के अविष्कार से जुड़ी कुछ रोचक जानकारी

डेवी लैंप

Sir Humphry Davy का जन्म 17 दिसंबर 1778 को इंग्लैंड में हुआ था सबसे पहले बिजली से रोशनी पैदा करने का विचार Sir Humphry Davy को आया था जो कि एक ब्रिटिश रासायनिक थे| उन्होंने ही डेवी लैंप का आविष्कार किया था| इसके अलावा उन्होंने Electrolysis, Potassium, Sodium, Magnesium, Calcium, Barium,और Beron की भी खोज की थी।

प्रकाश बल्ब (Light Bulb)

इसके बाद 1850 में Sir Joseph Wilson Swan ने एक खाली गिलास में कार्बोनेटेड पेपर फिलामेंट का प्रयोग करके एक Light Bulb बनाया था जोकि 1860 तक काम करने वाले उपकरण का प्रदर्शन करने में सक्षम रहा था| Sir Joseph Wilson Swan एक अंग्रेजी भौतिक विज्ञानीऔर आविष्कारक थे| उनका बनाया हुआ बल्ब ज्यादा समय तक नहीं चल पाया था क्योंकि वैक्यूम और पर्याप्त बिजली स्रोत ना होने की वजह से उनका बल्ब का आविष्कार एक अयोग्य प्रकाश बल्ब बनकर ही रह गया।

परंतु उन्होंने फिर भी हार नहीं मानी| उन्होंने साल 1875 में एक बेहतर vaccum और carbonated धागे की मदद से फिलामेंट के रूप में light bulb की समस्या पर पुनर्विचार किया| उन्होंने पहली बार 18 दिसंबर 1818 को सार्वजनिक रूप से अपने कार्बन लैंप का प्रदर्शन किया| यह लैंप भी ज्यादा सफल नहीं रह पाया क्योंकि यह लैंप जलते ही तेज रोशनी पैदा करता था लेकिन अत्यधिक धारा के कारण यह लैंप टूट गया| 

उन्होंने फिर से 17 जनवरी 1879 को इसे दोहराया और यह लैंप जलने में सफल रहा। उन्होंने व्याक्युम लैंप के माध्यम से विद्युत प्रकाश व्यवस्था की समस्या को हल कर दिया| फिर भी उनको विश्वसनीयता की समस्याओं का सामना करना पड़ा जिसकी वजह से वह सफल नहीं हो पाए और प्रभावी लैंप के आम उपयोग में आने से पहले उस पर 20 वर्षों तक दूसरे लोगों के द्वारा इसे विकसित किया गया।

Thomas Alva Edison के जीवन की कुछ रोचक बातें

Thomas Alva Edison का जन्म 11 फरवरी 1847 में हुआ था| Thomas Alva Edison को विश्व का पहला औद्योगिक प्रयोगशाला स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है| Edison एक अकेले ऐसे वैज्ञानिक थे जिन्होंने 1093 पेटेंट अपने करवाए थे| जो उनके सबसे महान अविष्कारकों में गिने जाते हैं| थॉमस एडिसन को बचपन में कम सुनाई देता था| जिसकी वजह से वह 4 साल तक बोल भी नहीं पाए थे|

परंतु जब उनको स्कूल में लगाया गया तो स्कूल के 1 टीचर ने उनके सवालों से तंग आकर मंदबुद्धि कह दिया था| जब यह बात Edison की मां को पता चली तो उन्होंने उसको स्कूल से निकाल लिया और उनको घर पर ही पढ़ाना शुरू कर दिया था। Edison एक ऐसे इकलौते विज्ञानिक है जिन्होंने लगातार 65 वर्षों तक हर 1 वर्ष में किसी ना किसी अविष्कार के लिए पेटेंट प्राप्त किया था। Edison ने बल्ब का आविष्कार करने से पहले जितने भी अविष्कार किये थे वह सारे विफल रहे थे।

बल्ब के अविष्कारक के फायदे

  • आज के समय में बल्ब हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हो गया है क्योंकि बल्ब की मदद से ही इंसान के जीवन में उजाला संभव हो पाया है। 
  • मार्केट में अलग-अलग तरह के बल्ब आ चुके हैं जिनका इस्तेमाल हम अपने घरों को सजाने के लिए करते हैं। 
  • बल्ब का इस्तेमाल रिसर्च और मेडिकल के लिए भी किया जाता है। 
  • किसी त्यौहार या सेलिब्रेशन के मौके पर बल्ब की मदद से हम अपने घरों को सजाते हैं और अपनी खुशी को जाहिर करते हैं।
  • बल्ब का आविष्कार होने की वजह से पढ़ाई करने में भी आसानी होती है जिसकी वजह से बच्चे पढ़ लिख कर काबिल बन रहे हैं और देश का नाम भी रोशन कर रहे हैं।

बल्ब के अविष्कार के नुकसान

जैसे हम जानते हैं कि जिस किसी भी चीज का अगर हमें फायदा होता है तो उसके नुकसान भी होते हैं| परंतु बल्ब मैं ऐसा कुछ भी नहीं है क्योंकि बल्ब के हमें कोई भी नुकसान नहीं पहुंचते हैं| इसकी हमें सिर्फ फायदे ही पहुंचे हैं| बल्ब का आविष्कार होने से हम अंधेरे में भी काम कर पाते हैं दिन हो या रात हम किसी भी समय बल्ब का इस्तेमाल करके अपना काम कर पाते हैं इसलिए हम कह सकते हैं कि बलों के हमें सिर्फ फायदे ही हुए हैं।

Conclusion

दोस्तों अब आप जान चुके हैं कि बल्ब का आविष्कार किसने किया, बल्ब क्या होता है, बल्ब कैसे काम करता है, बल्ब के अविष्कार के फायदे क्या है, बल्ब के अविष्कार के नुकसान क्या है। उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगी| अगर आपको हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी से संबंधित कोई भी डाउट हो तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

ये भी पढ़े:

टेलीफोन का आविष्कार किसने किया?

फ्रिज का अविष्कार किसने किया?

इंटरनेट की खोज किसने की और कब?

गाड़ी के नंबर से मालिक का नाम कैसे पता करे?

FAQ (Frequently Asked Questions)

बिजली के बल्ब का आविष्कार किसने किया था?

बिजली के बल्ब का आविष्कार थॉमस अल्वा एडिसन ने किया था| थॉमस अल्वा एडिसन उस समय के जाने-माने वैज्ञानिक थे।

लाइट बल्ब का आविष्कार कब हुआ था?

लाइट बल्ब का आविष्कार सन 1879 में किया गया था|

Light Bulb में नाइट्रोजन गैस क्यों भरी जाती है? 

लाइट बल्ब में नाइट्रोजन गैस तो भरी जाती है परंतु उसके साथ एक अक्रिय गैस ऑर्गन भी भरी जाती है। 

विधुत बल्ब में अक्रिय गैस क्यों भरी जाती है?

विधुत बल्ब में अक्रिय गैस इसलिए भरी जाती है क्योंकि यह है गैस बल्ब में उपस्थित टंगस्टन के साथ कोई प्रक्रिया नहीं करती है और साथ ही टंगस्टन को जल्दी खराब होने से भी बचाती है। 

बल्ब का फिलामेंट किसका बना होता है? 

बल्ब का फिलामेंट टंगस्टन का बना होता है जिसे अक्रिय गैस खराब होने से बचाती है| 

बल्ब का पूरा नाम क्या है? 

बल्ब काका पूरा नाम incandescent lamp है।

विद्युत बल्ब का आविष्कार किसने किया? 

विद्युत बल्ब का आविष्कार Thomas Edison ने किया था।

क्या सच में Edison जी ने ही LED बल्ब का आविष्कार किया था?

LED बल्ब का आविष्कार निकोलो नेक ने किया था| उन्होंने यह अविष्कार साल 1962 में किया था| उस समय अमेरिका की कंपनी जनरल इलेक्ट्रिक में इंजीनियर का काम कर रहे थे।

बल्ब बनाने वाले वैज्ञानिक का नाम क्या है?

बल्ब का आविष्कार करने वाले वैज्ञानिक का नाम Thomas Edison था| उनका जन्म 11 फरवरी 1847 में हुआ था| वह एक ऐसे विज्ञानिक थे जिनके नाम पर 1093 पेटेंट किए गए हैं और उनका सबसे बड़ा आविष्कार बिजली का बल्ब को माना जाता था।

विद्युत बल्ब का आविष्कार कौन है?

विद्युत बल्ब का आविष्कारक Thomas Edison है|

1 thought on “बल्ब का आविष्कार किसने किया?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top