Nominee क्या होता है? जानिए आसान भाषा में

Nominee क्या होता है

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं कि Nominee क्या होता है? आप में से ऐसे बहुत से लोग होंगे जिनका बैंक में अकाउंट खाता पहले से खुला हुआ है| अगर आपका बैंक में खाता नहीं खुला है| अगर आप खाता खुलवाने के लिए बैंक में जाते हैं तो आपको वहां पर अपनी सारी जानकारी बतानी होती है| जैसे ही आप उनको अपने बारे में सारी जानकारी बताते हैं साथ ही उसमें आपसे नॉमिनी की जानकारी के बारे में भी पूछा जाता है| अब आप सोच रहे होंगे कि नॉमिनी क्या होता है|

आज हम आपको उसके बारे में पूरी जानकारी के साथ बताने जा रहे हैं। जब आप बैंक में अपना खाता खुलवाने के लिए फॉर्म भरते हैं तो फोन में एक नॉमिनी का कॉलम होता है| जिसके बारे में लोग अक्सर पूछते हैं कि क्या यह भरना जरूरी है| या हम इसे छोड़ भी सकते हैं| ऐसे बहुत से लोग हैं जिनको इसके बारे में जानकारी नहीं है| अगर आप भी उनमें से एक हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को अंत तक ध्यान से जरूर पढ़ें।

Nominee क्या होता है?

जब भी आपका किसी बैंक में खाता खुला होता है तो उसका खाते का होल्डर नॉमिनी कहलाता है| मतलब यह हुआ कि अगर जिस व्यक्ति का खाता बैंक में खुला है तो उसके साथ एक नॉमिनी की जानकारी के बारे में पूछा जाता है| जिस व्यक्ति का खाता बैंक में खुला है और उसकी किसी वजह से मौत हो जाने पर उस खाते का होल्डर होगा या नॉमिनी होगा वह सारा पैसा उस व्यक्ति की मौत के बाद उस नॉमिनी को मिल जाता है| अब आप समझ गए होंगे कि किसी बैंक खाते का नॉमिनी होना कितना जरूरी होता है| 

हम सभी जानते हैं कि जब किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसके बैंक खाते में से पैसा निकलवाना बहुत मुश्किल हो जाता है| और उस पैसे को निकलवाने के लिए बहुत ही परेशानियों का सामना करना पड़ता है| चाहे आप उस व्यक्ति के सगे संबंधी क्यों ना हो अगर उस व्यक्ति की मौत हो गई है तो आपके लिए भी उसके बैंक अकाउंट से पैसा निकालना मुश्किल हो जाता है| उसकी मौत के बाद उसका सारा पैसा नॉमिनी को मिल जाता है| इसका मतलब यह हुआ कि उस व्यक्ति की मौत के बाद अगर उसका बैंक खाते का नॉमिनी बड़ी आसानी से उसका पैसा निकलवा सकता है| इसलिए हर बैंक खाते में नॉमिनी का होना बहुत जरूरी है|

अगर आप अपने बैंक खाते में नॉमिनी बनाना चाहते हैं तो आप अपने माता-पिता, पत्नी और बच्चे किसी को भी अपने बैंक खाते का नॉमिनी बना सकते हैं। 

Nominee कब बना सकते है?

अब आप जान चुके हैं कि Nominee क्या होता है और किसी भी बैंक अकाउंट के लिए नॉमिनी का होना कितना जरूरी है| परंतु आपके मन में सवाल होगा कि आप Nominee कब बना सकते हैं| जब भी आप किसी भी बैंक में अपना बैंक खाता खुलवाने के लिए जाते हैं तो तब उस समय आपसे बैंक के नॉमिनी के बारे में पूछा जाता है| जिसको भी आप अपने बैंक खाते का Nominee बनाना चाहते हैं| आपको बैंक को उसके बारे में जानकारी देनी होती है| जैसे कि Nominee का नाम, पता, जन्म तिथि, Nominee की उम्र और Nominee का आप से रिश्ता क्या है?

जब आप बैंक में अपना खाता खुलवाने के लिए फॉर्म को भरते हैं तो उस फॉर्म में Nominee का कॉलम होता है जहां पर आपको Nominee के बारे में सारी जानकारी को भरना होता है| आप अपने माता-पिता, पत्नी, और बच्चे किसी को भी अपने बैंक खाते का Nominee बना सकते हैं| 

अगर आप ने बैंक में अपना बैंक खाता खुलवाने के समय Nominee नहीं बनाया है तो आप बाद में भी अपने बैंक खाते का Nominee बना सकते हैं|  इसके लिए आपको अपने बैंक ब्रांच में जाना होगा और वहां से Nominee का फॉर्म लेकर अपने Nominee के बारे में सारी जानकारी भरकर बैंक में जमा करवाना होगा और इस तरह आप अपने बैंक खाते का Nominee बना सकते हैं| 

क्या बैंक खाते में Nominee को बदल सकते है?

जी हां आप अपने बैंक खाते के Nominee को बदल सकते हैं| आप जब भी चाहे अपने खाते के Nominee का नाम बदल सकते हैं| इसके लिए आप या तो इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं नहीं तो आपको बैंक में जाकर Nominee का नाम बदलवाना होगा और इस प्रकार आप अपने बैंक खाते का नॉमिनी बदल सकते हैं| 

कहां कहां जरूरी होता है Nominee?

इंश्योरेंस करवाते समय Nominee जरूरी होता है|

अगर आप जीवन बीमा पॉलिसी ले रहे हैं तो आपको उसमें Nominee बनाना जरूरी होता है| जीवन बीमा पॉलिसी मैं आप एक से ज्यादा Nominee बना सकते हैं| आप अपने माता-पिता, बच्चों या पत्नी को भी Nominee बना सकते हैं|  जीवन बीमा पॉलिसी में कानूनी वारिस को ही नॉमिनी बनाना ज्यादा बेहतर होता है| 

बैंक में खाता खुलबातें समय Nominee जरूरी होता है|

आप अपना बैंक खाता खुलवाते समय भी Nominee बना सकते हैं|  Nominee परिवार के सदस्य, माता-पिता, पत्नी और बच्चे को बना सकते हैं| अगर बैंक खाते वाले व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसका पैसा उसके Nominee को दे दिया जाता है| अगर वही किसी का जॉइंट अकाउंट है तो पहले व्यक्ति की मौत के बाद सारा पैसा दूसरे व्यक्ति को दे दिया जाता है और दूसरे व्यक्ति की मौत के बाद सारा पैसा उसके Nominee को दे दिया जाता है| 

डीमैट अकाउंट के लिए समय Nominee जरूरी होता है|

हम सभी जानते है कि शेयर्स और सिक्योरिटीज़ के इन्वेस्टमेंट डीमैट अकाउंट के ज़रिए किए जाते हैं| इसके लिए आप एक से ज्यादा Nominee नियुक्त कर सकते हैं| यहां Nominee स़िर्फ केयरटेकर ही नहीं होता बल्कि मालिक होता है| उसे क़ानूनी वारिस को शेयर्स ट्रांसफर नहीं करने होते है| 

निवेश करते समय Nominee जरूरी होता है|

अगर आप फिक्स्ड डिपॉजिट कर रहे हैं या फिर कोई और निवेश करना चाहते हैं| इसके लिए आपका Nominee होना बहुत जरूरी है यहां पर आप सिर्फ एक ही Nominee बना सकते हैं| निवेश पॉलिसी के दौरान Nominee सिर्फ केयरटेकर ही नहीं होता बल्कि मालिक भी होता है और कानूनी तौर पर वारिस को आप शेयर ट्रांसफर नहीं कर सकते हैं| 

अगर आप mutual फंड में निवेश कर रहे हैं तो आप एक से ज्यादा Nominee भी बना सकते हैं और अगर आप चाहते हैं कि किसी Nominee को कम या ज्यादा शेयर देना है तो उसके लिए आप फॉर्म में पहले से ही जानकारी प्रदान कर सकते हैं| 

अगर हम बात प्रॉपर्टी की करें तो प्रॉपर्टी में Nominee की कोई खास भूमिका नहीं होती है और Nominee नियुक्त करने के लिए वसीयत और सेक्शन काम करते हैं और अगर आप वही फ्लैट में रहते हैं तो उस स्थिति में Nominee का होना जरूरी है| 

Nominee बनाने के लिए नियम क्या-क्या है?

  • अगर Nominee नाबालिग है तो आप guardian नियुक्त कर सकते हैं। 
  • आप एक से ज्यादा Nominee नियुक्त कर सकते हैं| 
  • Nominee को आप अपनी मर्जी के मुताबिक बदल सकते हैं।
  • Nominee आप की प्रॉपर्टी का हकदार नहीं होता है। 
  • नॉमिनी बनाने के पर भी वसीयत बनाना जरूरी होता है। अगर Nominee है पर वसीयत नहीं है तो वसीयत का बंटवारा कानून के हिसाब से होता है| 

EPF में Nominee को कितनी रकम मिलती है?

  • कर्मचारी की मृत्यु हो जाने पर मिलने वाली लिमिट को बढ़ा दिया गया है
  • अब लिमिट को ₹700000 तक बढ़ा दिया गया है पहले या रकम ₹600000 हुआ करती थी। 
  • कर्मचारी की मृत्यु होने के बाद सारी रकम Nominee को दे दी जाएगी।

दोस्तों तो अब आप जान चुके हैं कि Nominee क्या होता है? Nominee कब बना सकते हैं? और Nominee को कैसे बदल सकते हैं? साथ ही आप यह भी जान चुके हैं कि Nominee कहां कहां बना सकते हैं Nominee बनाने के नियम क्या है? उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी आपके लिए लाभदायक होगी और अगर आपको इस जानकारी से संबंधित कोई भी डाउट हो तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं| 

ये भी पढ़े:

Recurring Deposit क्या है?

EMI क्या है?

NPA क्या है?

FAQ (Frequently Asked Questions)

क्या नाबालिग नॉमिनी बन सकता है?

जी हां 18 साल से कम उम्र के व्यक्ति को भी आप नॉमिनी बना सकते हैं| लेकिन उसके लिए आप को साथ में कोई गार्जियन पॉइंट करना होता है| जैसे कि अगर आप अपने बच्चों को अपना नॉमिनी बना रहे हैं तो उसके साथ आप अपनी पत्नी को गार्जियन बना सकते हैं| क्योंकि यह दोनों ही आपके वारिस है| अगर किसी वजह से आपकी मृत्यु हो जाती है तो सारा पैसा नॉमिनी को दे दिया जाता है इसमें कोई भी कानूनी समस्या नहीं आती है| 

क्या एक से ज्यादा नॉमिनी बना सकते हैं?

यह आप पर निर्भर करता है| आप एक से ज्यादा भी नॉमिनी बना सकते हैं या फिर आप उनमें शेयर भी बांट सकते हैं| 

क्या नॉमिनी बदल सकते हैं?

जी हां आप जब भी चाहे अपने नॉमिनी को बदल सकते हैं| यह आप पर निर्भर करता है कि आप किसे नॉमिनी बनाना चाहते हैं या फिर आप ने जिसको नॉमिनी नियुक्त किया हुआ है आप उसको भी बदल सकते हैं|  उसकी जगह कोई नया नॉमिनी बना सकते हैं क्योंकि इसका आपके पास पूरा अधिकार होता है| 

Your Answer

Your email address will not be published.

Scroll to Top