Recurring Deposit क्या है? RD की पूरी जानकारी

Recurring Deposit क्या है

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं Recurring Deposit क्या है? अगर आप कोई नौकरी करते हैं और आप चाहते हैं कि हर महीने कुछ ना कुछ बचत की जाए तो उस स्थिति में Recurring Deposit यानी RD आपके बहुत काम आ सकती है। 

ऐसे बहुत से लोग होंगे जो कोई ना कोई नौकरी या व्यवसाय कर रहे होंगे और अपने घर का खर्चा चला रहे होंगे| इस स्थिति में अगर आप कहीं नौकरी कर रहे हैं तो आपकी सैलरी एक फिक्स अमाउंट होती है| आप यह भी चाहते हैं कि उस fix अमाउंट में से कुछ ना कुछ थोड़ा बहुत पैसा बचाया जाए जो कि आगे आपके भविष्य में काम आ सके| अगर आप ज्यादा पैसा हर महीने जमा नहीं कर सकते तो आप थोड़ा पैसा जमा करके अपने भविष्य के लिए बचा सकते हैं| वह कैसे होगा उसके लिए आपको हमारे द्वारा शेयर करी गई इस जानकारी को अंत तक पढ़ना होगा।

Recurring Deposit क्या है?

Recurring Deposit यानी की RD हर महीने आप एक fix राशि को अगर जमा करना चाहते हैं तो उसके लिए Recurring Deposit यानी की RD आपके लिए बहुत ही बेहतर स्कीम है| आप हर महीने एक निश्चित अमाउंट यानी जमा राशि को जमा करते हैं जब आपकी RD मैच्योर हो जाती है तो उस समय आप की जमा की गई राशि के ऊपर एक निश्चित दर पर ब्याज भी मिलता है| 

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए आपने एक RD शुरू की है और इस RD में आप हर महीने ₹5000 जमा कर रहे हैं| और आपने यह 6 महीने के लिए शुरू की है तो आप इस RD में 6 महीने तक हर महीने पांच ₹5000 रुपये जमा करते रहेंगे| जब यह RD 6 महीने बाद मैच्योर हो जाएगी तो उस समय आपको आपके द्वारा जमा की हुई राशि के साथ एक निश्चित किया हुआ ब्याज भी मिलेगा।

Recurring Deposit की ब्याज दर क्या है?

अब आप यह तो जान चुके हैं कि Recurring Deposit यानी RD क्या होता है? अब आप इसके ब्याज दर के बारे में भी जरूर जानना चाहते होंगे| आपको हम बताना चाहेंगे कि RD की ब्याज दर सेविंग अकाउंट की ब्याज दर से ज्यादा होती है| आमतौर पर ब्याज दर 6% से लेकर 9% तक होती है परंतु आपको एक बात ध्यान में जरूर रखनी है कि RD की ब्याज दर समय के साथ साथ बदलती रहती है| 

इसलिए जब भी आप अपनी RD शुरू करने लगे तो सबसे पहले आपको उस समय RD की ब्याज दर कितनी है उसके बारे में जानकारी ले लेनी होगी| आपको यह भी देखना जरूरी है होगा कि कितने समय की RD पर आपको सबसे ज्यादा ब्याज दर मिल रही है| तो उसके मुताबिक ही आप अपनी RD को शुरू कर सकते हैं। ताकि आपको एक अच्छी ब्याज दर मिल सके। आमतौर पर Recurring Deposit की ब्याज दर फिक्स डिपाजिट किराएदार के बराबर ही होती है।

Recurring Deposit की अवधि क्या है?

RD अकाउंट में आप कम से कम 6 महीने से लेकर ज्यादा से ज्यादा 10 साल तक की RD करा सकते हैं| परंतु कुछ बैंक आरडी की अवधि अलग-अलग भी होती है| उदाहरण के तौर पर अगर हम ICICI बैंक की बात करें तो ICICI बैंक में आप कम से कम 3 महीने की RD भी करवा सकते हैं। जैसे कि हमने बताया था कि आप आमतौर पर 6 महीने से लेकर 10 साल तक की RD करवा सकते हैं| तो उसमें आप कम से कम 6 महीने, 9 महीने या 12 महीने की RD भी करवा सकते हैं| 

Recurring Deposit की राशि?

Recurring Deposit को ओपन करवाने के लिए इसकी एक मिनिमम या मैक्सिमम राशि बैंक पर निर्भर करती है| हर बैंक का अपना अपना मिनिमम और मैक्सिमम बैलेंस होता है| किसी बैंक में आप कम से कम ₹100 से RD शुरू कर सकते हैं तो किसी बैंक में यह राशि कम से कम 500 रुपये भी हो सकती है| कुछ बैंक में तो आप सिर्फ मात्र ₹10 से भी RD अकाउंट ओपन कर सकते हैं| 

इसलिए आप जब भी RD अकाउंट ओपन करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले अपनी बैंक ब्रांच में जाकर इसके बारे में जानकारी ले लेनी चाहिए या फिर आप अपने इंटरनेट बैंकिंग से भी इसके बारे में जानकारी ले सकते हैं और उसके बाद ही आप अपनी RD की शुरुआत करनी चाहिए| 

क्या Recurring Deposit को मैच्योर होने से पहले बंद किया जा सकता है?

अगर आपने अपनी रेकरिंग अकाउंट यानी RD अकाउंट 6 महीने के लिए ओपन करवाया है|  और आप चाहते हैं कि 3 या 4 महीने में उस RD अकाउंट को बंद करना चाहते हैं तो यह मुमकिन है| आप अपने RD अकाउंट को मैच्योर  होने से पहले भी बंद कर सकते हैं| अगर आप अपनी RD 3 महीने के बाद बंद करते है तो आपको ब्याज दर मिलता है| अगर 3 महीने से पहले बंद करते है तो आपको ब्याज दर नहीं मिलता है| 

इसलिए कोशिश करें कि आपने जितने टाइम के लिए RD अकाउंट खोला है तब तक उसको जारी रखें| उसको मैच्योर होने के बाद ही बंद करें ताकि आपको अपनी जमा की गई राशि के साथ-साथ ब्याज दर भी मिल सके| 

RD अकाउंट कैसे ओपन किया जाता है?

अगर आप Recurring Deposit यानी RD अकाउंट ओपन करना चाहते हैं तो इसके लिए 2 तरीके है जिससे आप अपना रेकरिंग डिपॉजिट अकाउंट ओपन कर सकते हैं और अपने पैसे की बचत कर सकते हैं|  आप ऑफलाइन तरीके से अकाउंट ओपन कर सकते हैं नहीं तो आप ऑनलाइन तरीके से भी RD अकाउंट ओपन कर सकते हैं| 

Recurring Deposit अकाउंट ऑफलाइन ओपन कैसे करें?

  • अगर आप अपना Recurring Deposit अकाउंट ऑफलाइन ओपन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने नजदीकी बैंक ब्रांच में जाना होगा| 
  • बैंक ब्रांच में जाने के बाद आपको वहां अपने अकाउंट की जानकारी बैंक अधिकारी को देनी होगी| 
  • उसके बाद आपको वहां पर एक फॉर्म को भरना होगा| फॉर्म में पूछी गई आप से जानकारी जैसे कि अकाउंट नेम, अकाउंट नंबर, पता, मोबाइल नंबर और अन्य जानकारी को फॉर्म में  भरकर उस फॉर्म को बैंक अधिकारी के पास जमा करवाना होगा| 
  • फिर बैंक अधिकारी आपके उस फॉर्म की जानकारी को वेरीफाई करेगा। 
  • आपकी जानकारी वेरीफाई होने के बाद आपका Recurring Deposit अकाउंट ओपन हो जाएगा| 

Recurring Deposit अकाउंट ऑनलाइन ओपन कैसे करें?

अगर आप अपना Recurring Deposit अकाउंट ऑनलाइन खोलना चाहते हैं तो आप अपने बैंक की इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके RD अकाउंट ओपन कर सकते हैं| सबसे पहले आपको इंटरनेट बैंकिंग के लॉगिन पासवर्ड की जरूरत होगी| हम आपको बताना चाहेंगे कि आमतौर पर ऑनलाइन RD  अकाउंट सुबह 8:00 बजे से लेकर रात 8:00 बजे के बीच ही खोले जाते हैं। 

जब आप ऑनलाइन RD अकाउंट खोलने के लिए अनुरोध करेंगे तो उसमें आप से जमा राशि के बारे में पूछा जाएगा कि आप किस अवधि तक खाते में कितनी राशि डालना चाहते हैं| कुछ बैंक ऐसे भी होते हैं जो ऑफलाइन जमा करने की अनुमति दे सकते हैं| हालांकि पहली क़िस्त ऑनलाइन जमा करने की आवश्यकता होती है| 

RD की मेच्योरटी वैल्यू कैसे पता करें?

जब आप अपने RD अकाउंट में पैसा जमा करते हैं तो कुछ बैंकों द्वारा RD Calculator की सुविधा दी जाती है| आप नीचे बताए गए फार्मूले की मदद से खुद भी इसके बारे में पता कर सकते हैं| 

A = P*(1+R/N)^(Nt)

यहां A मैच्योरिटी पर मिलने वाली राशि है| P रेकरिंग डिपॉजिट में जमा की गई राशि है| N कंपाउंडिंग फ्रीक्वेंसी है| R ब्याज दर है| पर t अवधि है| 

8 फीसदी की दर से 12 महीनों के लिए 5,000 रुपये का रेकरिंग डिपॉजिट करने पर मैच्योरिटी की यह रकम बनेगी:

A = P*(1+R/N)^(Nt)

= 5000*(1+.0825/4)^(4*12/12) = 5425.44

= 5000*(1+.0825/4)^(4*11/12) = 5388.64

= 5000*(1+.0825/4)^(4*1/12) = 5034.14

कुल मैच्योरिटी वैल्यू ( सीरीज का योग) = 62730.85 रुपये

RD अकाउंट किसके नाम पर खोला जा सकता है?

RD अकाउंट खुलवाने के लिए कुछ खास कैटेगरी है जिन पर आप RD अकाउंट ओपन करवा सकते हैं और वह कैटेगरी कुछ इस प्रकार है:-

  • व्‍यक्तिगत-एकल खाता
  • दो अथवा अधिक व्‍यक्ति- संयुक्‍त खाता
  • अनपढ़ व्‍यक्ति
  • दृष्टिहीन व्‍यक्ति
  • नाबालिग

Recurring Deposit के फायदे क्या है?

  • Recurring Deposit यानी RD में आप कम से कम राशि में भी पैसा जमा कर सकते हैं। 
  • Recurring Deposit में कम से कम 6 महीने से लेकर 10 साल तक आप पैसा जमा कर सकते हैं। 
  • Recurring Deposit में आप अपना RD अकाउंट मैच्योर होने से पहले भी पैसा निकाल सकते हैं इस पर आपसे बैंक कोई भी कटौती नहीं करता है। 
  • Recurring Deposit अकाउंट में सीनियर सिटीजन को सामान्य से ज्यादा ब्याज दर मिलती है।

क्या RD पर ब्याज को ब्लॉक कर सकते हैं?

जैसे कि हम जानते हैं कि RD अकाउंट पर कंपाउंडिंग ब्याज मिलता है| जिस ब्याज पर आप निवेश करना शुरू करते हैं आपकी RD मेच्योरटी तक उस ब्याज दर पर लॉक हो जाती है|  मान लीजिये आपने मई 2021 में 5.3% के ब्याज दर पर निवेश करना शुरू किया था| जून 2021 मैं सरकार स्कीम पर ब्याज को कम करने का फैसला ले लेती है| और ब्याज 5.3% से कम होकर 5% रह जाता है| इस तरह जब आपकी RD अप्रैल 2024 को मैच्योर होगी तो बैंक आपको 5.3% की ब्याज दर से ही ब्याज देगा इस प्रकार आप अपनी RD पर ब्याज को लॉक कर सकते हैं| 

हम आपको बताना चाहेंगे कि RD के ब्याज पर निवेश को इनकम टैक्स स्लैब के अनुसार टैक्स देना होता है| मान लीजिए अगर आपका RD पर ब्याज ₹40000 से ज्यादा है तो आपका TDS कटेगा| क्योंकि इनकम टैक्स कानून के तहत सेक्शन 80C में 1.5 लाख रुपए की छूट आपको केवल पोस्ट ऑफिस की RD पर मिलती है| बैंक आईडी पर टैक्स की छूट नहीं मिलती है| 

अब आप जान चुके हैं कि Recurring Deposit क्या है? Recurring Deposit की ब्याज दर क्या है? Recurring Deposit की अवधि क्या है? Recurring Deposit के फायदे क्या है? उम्मीद करते हैं कि आप भी हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी को पढ़ने के बाद कुछ ना कुछ राशि को जमा जरूर करना चाहेंगे| जिसके लिए Recurring Deposit अकाउंट आपके लिए एक बेस्ट तरीका होगा| आप अपने भविष्य के लिए अभी से पैसा जमा करना शुरू कर सकते हैं| अगर आपको हमारे द्वारा शेयर करी गई जानकारी से संबंधित कोई भी डाउट है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं|

ये भी पढे:

EMI क्या है? और EMI कैसे करें?

NPA क्या है पूरी जानकारी?

शेयर मार्किट क्या है कैसे सीखें?

Your Answer

Your email address will not be published.

Scroll to Top